Warangal Fort History In Hindi

Warangal Fort History In Hindi | वारंगल किले का इतिहास और घूमने की जानकारी

Complete information of Warangal Fort in Hindi में आपका स्वागत है। आज हम वारंगल किला का इतिहास और घूमने की जानकारी बताने वाले है। तेलंगाना राज्य में वारंगल किला का वारंगल का एक प्रमुख पर्यटन स्थल है। जो वास्तुशिल्प उत्कृष्टता का नमूना है। यह किला एक के समय में एक खंडहर में है ,लेकिन आज भी काकतीय राजवंश की ऐतिहासिक भव्यता और वास्तुकला को प्रदर्शित करता खड़ा है। वारंगल किले का खंडहर किसी भी पैलेस, महल या फोर्ट से मिलता जुलता नहीं है।

उसका यह कारन है की यह खंडहर किले से राजाओ से निर्मित शानदार दीवारें, तोपें और कोर्ट हॉल देखने को नहीं मिलते है। ऐसा कहे तो कुछ गलत नहीं है। की सिर्फ चंद अवशेष ही देखने को मिलते है। यह किले का मुख्य आकर्षण चार सजावटी द्वार है। हनमकोंडा एव वारंगल से यह किला तक़रीबन 20 किमी दूर तेलंगाना राज्य का ऐतिहासिक आकर्षण के रूप में स्थित है। fort warangal को देखने देश विदेश के कई यात्री आते रहते है। तो चलिए warangal fort built by की जानकारी के साथ वारंगल किले का इतिहास शुरू करते है।

Warangal Fort History In Hindi

वारंगल किले का निर्मणा काकतीय वंश के साम्राज्य के समय हुआ था। वारंगल शहर में राजा गणपतिदेव ने यह किले का निर्मणा 1175 से 1324 सीई के मध्य में करवाया था। 12वीं शताब्दी में निर्मणा हुआ यह किला राजा गणपतिदेव की मौत के बाद उनकी बेटी द्रमा देवी ने यहाँ अपना अधिपत्य जमाया और पूरे राज्य को अपने कब्जे में ले लिया था । 1262 में जब राजा गणपतिदेव नहीं रहे तो द्रमा देवी ने यहाँ शासन किया था। कई आक्रमणों को सहन करने वाला यह किला बहुत ही मजबूती से बना था।

warangal fort drawing
warangal fort drawing

प्रतापरुद्र द्वितीय के साम्राज्य के समय में यानि 1309 में अलाउद्दीन खिलजी ने हमला किया था । उस युद्ध में खिलजी की और से तक़रीबन 100,000 सैनिकों ने किले पर हमला किया था। यह युद्ध महीनो तक चला था। राजा प्रतापरुद्र दूसरे अपने किले की रक्षा के लिए बहुत ताकतवर थे। लेकिन वह कुतुब शाही वंश के हैदराबाद के निजाम आक्रमण से नहीं जित पाए। और वही से किले के विनाश की शुरुआत हो चुकी थी। मध्यकालीन वास्तुकला की भव्यता एव काकतीय शासकों की बहादुरी प्रदर्शित करता आज भी एक खंडहर के रूप में स्थित है।

वारंगल किले का प्रवेश शुल्क

आप अपने परिवार या दोस्तों के साथ वारंगल दुर्ग गुमने के लिए जाते है। तो Warangal Fort Entry Fee की जानकरी बताये यात्रियों के लिए। वारंगल फोर्ट की एंट्री फीस में भारतीय पर्यटकों के लिए 15 रूपये और विदेशी पर्यटकों के लिए 200 रूपये का शुल्क लिया जाता है। अगर आप शूटिंग करना चाहते है। तो विडियो कैमरा के लिए 25 रूपये देने होंगे।

Photos of Warangal Fort
Photos of Warangal Fort

Warangal Fort Timings In Hindi

अगर आप किसी स्थान पर गुमने के लिए जाते है। तो उसका शुरू और बंद होने का समय जरूर पता होना चाहिए। (is warangal fort open) वैसे ही वारंगल फोर्ट की टाइमिंग यानी खुलने और बंद होने का समय बताये तो वारंगल फोर्ट सुबह 10 बजे से लेकर के शाम के 7 बजे तक खुला रहता है। और सप्ताह के सातों दिन खुला ही होता हैं।

Images for Warangal Fort
Images for Warangal Fort

वारंगल किला घूमने का सबसे अच्छा समय

आप अगर Best Time To Visit Warangal Fort की तलाश में है। तो वैसे तो पुरे वर्ष में वारंगल फोर्ट घूमने जा सकते है। लेकिन वारंगल फोर्ट घूमने जाने के लिए सबसे अच्छा समय बताये तो आपको सर्दियों के मौसम में जाना चाहिए। क्योकि सितंबर से मार्च के मौसम में वातावरण सुखद, निर्मल और सुहावना होता है।

वारंगल किले का इतिहास और घूमने की जानकारी
वारंगल किले का इतिहास और घूमने की जानकारी

वारंगल किले की यात्रा के लिए टिप्स

  • आपको वारंगल किले को सम्पूर्ण देखने के लिए 3 से 4 घंटे का समय चाहिए।
  • किले में आयोजित होने वाले लाइट एंड साउंड शो में जरूर हिस्सा लेना चाहिए।
  • सर्दियों के मौसम में वारंगल किले की यात्रा करे।
  • दूसरे मौसम में जाने केलिए आपको सुबह जल्दी या शाम के समय जाना चाहिए।
  • गर्मियों के मौसम में जाने के लिए टोपी, सनग्लासेस और पानी की बोटल्स जरूर होती है।
  • अगर आपको फोटोग्राफी करने का शौख है तो कैमरा भी साथ रखे।

    Warangal Kila
    Warangal Kila

Warangal Fort Architecture in Hindi

हमारे भारत में वारंगल किला (warangal fort hyderabad) थोरियन स्थापत्य शैली में निर्मित एक अद्भुत संरचना है। वारंगल किले की वास्तुकला तक़रीबन 12 वीं शताब्दी की वास्तुकला देखने को मिलती है। यह पैलेस निर्माण के समय यानि खंडहर में बदलने से पहले पैलेस 45 शानदार स्तंभों से बनाया गया था। यह स्तंभ जटिल नक्काशी से भरे हुए थे। वर्तमान में खण्डहर के किले के दो दीवारों के साथ चार विशाल प्रवेश द्वार साँची शैली में बने हुए हैं। जो पत्थर पर बारीक काम और शेर एव हंस जैसी चिड़ियों को दर्शाने वाले आकृतिया देखने को मिलती है। किले को आक्रमणकारियों से बचाने के लिए तीन गोल दीवारों के साथ मजबूत बनाया था। देवी रुद्रमा ने वारंगल किले की पहली दीवार मिट्टी से 150 फीट चौड़ी और 2.4 किमी के व्यास में दूसरी दीवार के बाहरी विभाग को कवर करती बनाई गई थी।

Warangal Fort Stock Photos
Warangal Fort Stock Photos

वारंगल किला का प्रमुख आकर्षण

आज के समय में एक खंडहर बना है। लेकिन यहाँ स्वयंभू देवालयम स्थित है। यह मंदिर भगवन भोले नाथ को समर्पित है। यह शिवजी का टेम्पल तक़रीबन 1162 ईस्वी में बनाया गया था। यह मंदिर किले के बीचो बिच स्थित है। यह मध्ययुगीन टेम्पले में अद्भुत मूर्तिया के साथ साथ एक विशाल नंदी की मूर्ति देखने को मिलती है। उसके अलावा यहाँ शंभूलिंगेश्वर मंदिर, दूसरे शिव मंदिर और ओपन एयर संग्रहालय भी शामिल है। वर्तमान समय में भले ही यह एक खंडहर फोर्ट है। लेकिन यहाँ कई प्राचीन मंदिर देखने को मिलते है। जिन्हे देखने के लिए पर्यटक आया करते है।

warangal fort images
warangal fort images

वारंगल किले में लाइट एंड साउंड शो 

यह किले का Light and Sound Show को पर्यटक को जरूर देखना चाहिए। क्योकि वास्तुशास्त्र के साथ यात्री को यहाँ साउंड एंड लाइट शो का आनंद मनमोहक है। फ़स्ट शो शाम 6:30 बजे से 7:20 के बीच तेलुगु भाषा में प्रदर्शित होता है। सेकंड शो शाम 7:30 बजे से 8:20 बजे इंग्लिश भाषा में दिखाया जाता है। वारंगल किला में साउंड एंड लाइट शो यह फोर्ट का मुख्य आकर्षण और यात्री को वास्तु और ऐतिहासिक महत्व के बारे में परिचित करता है। लाइट एंड साउंड शो की टिकट की बात करे तो वयस्क पर्यटकों के 40 रूपये एव बच्चो के लिए 20 रूपये का शुल्क लिया जाता है।

वारंगल दुर्ग फोटो
वारंगल दुर्ग फोटो

वारंगल किले के नजदीकी पर्यटक स्थल

अगर आप वारंगल फोर्ट के आसपास घूमने की जगह की तलाश में है। तो आपको बतादे की यह स्थल पर पर्यटकों के लिए घूमने फिरने के कई आकर्षक स्थाउपलब्ध है। कुछ नाम हम बताएँगे जिन्हे देख के आप अपनी यात्रा को बहुत यादगार बना सकते है।

  • वारंगल किला
  • श्री वीरनारायण मंदिर
  • इटर्नगरम वन्यजीव अभयारण्य
  • रायपार्थी शिव मंदिर
  • मेदराम गाँव
  • काकतीय रॉक गार्डन
  • पाखल झील
  • भद्रकाली मंदिर
  • मिनी चिड़ियाघर
  • कुलपाकजी जैन मंदिर
  • इनावोलु मल्लन्ना मंदिर
  • पद्माक्षी मंदिर
  • श्री विद्या सरस्वती शनि मंदिर
  • सिद्धेश्वरा मंदिर
  • हजार स्तंभ मंदिर
  • इस्कॉन मंदिर
  • काकतीय संगीत उद्यान
  • लकनावरम चेरुवु
  • गोविंदराजुला गुट्टा
  • रामप्पा मंदिर

    वारंगल तस्वीरें
    वारंगल तस्वीरें

वारंगल किला यात्रा में रुकने के लिए होटल्स

अगर आप वारंगल किला और उसके नजदीकी प्रमुख पर्यटक स्थल में घूमने जाते है। तो आपको फ्रेंड्स और फैमली को ठहरने के लिए। आपको वारंगल में कम बजट से लेकर लग्जरी बजट तक की सभी प्रकार की होटल्स और गेस्ट हॉउस उपलब्ध हैं। कुछ नाम हम भी देते है। अगर पसंद है तो आप[ भी बुक कर सकते है ।

  • Supreme Hotel
  • Raghavendra Lodge
  • Ratna Hotel
  • Hotel Shanti Krishna
  • Hotel Surya

वारंगल का स्थानीय भोजन

आप वारंगल किला घूमने जाते है। तो वारंगल शहर में पर्यटको को स्वादिष्ट और मनपसंद भोजन उपलब्ध होता है। लेकिन आपको वह स्थान का स्पेशियल खाना यानि स्थानीय भोजन जरूर करना चाहिए। क्योकि वारंगल किले के साथ यह स्थान अपने भोजन के लिए भी प्रसिद्ध है। यहाँ आपको साउथ इंडियन एव नॉर्थ इंडियन खाने के साथ जलेबी, अचार, ग्राम पाउडर सब्जिया, लसकोरा उना और हैदराबादी बिरयानी का स्वाद चखने को मिलता है।

वारंगल किले का फोटो
वारंगल किले का फोटो

Warangal Fort वारंगल तक कैसे पहुंचे

रेलवे से वारंगल किला तक कैसे पहुँचे

अगर आप वारंगल किला जाने के लिए (Train) ट्रेन यानि रेलवे मार्ग को पसंद करते है। तो आपको बतादे की वारंगल शहर का रेलवे स्टेशन तेलंगाना राज्य के सभी मुख्य शहरो से बहुत अच्छे से रेलवे मार्ग से जुड़ा हुआ है। इसी कारन आप बहुत ही आसानी से वारंगल किला तक का सफर तय कर सकते है। वह से समय समय सभी ट्रेने चलती रहती है। 

सड़क मार्ग से वारंगल किला कैसे पहुँचे

अगर आप राजगढ़ किला जाने के लिए (Raod) सड़क मार्ग को पसंद करते है। तो आपको बतादे की वारंगल सड़क मार्ग भारत के सभी शहरों से बहुत अच्छे से जुड़ा हुआ है। वारंगल किला तक जाने के लिए पर्यटक की सफर आरामदायक एव आसान है। तेलंगाना राज्य सरकार और वहा की खानगी ट्रेवल एजेंसीयों की बसो की सहायता आप आसानी से वारंगल किला तक पहुंच सकते है। 

फ्लाइट से वारंगल किला कैसे पहुँचे

अगर आप वारंगल किला जाने के लिए (Flight) फ्लाइट को पसंद करते है। वारंगल शहर से 172 किलोमीटर दूर हैदराबाद हवाई अड्डा वारंगल किले का सबसे नजदीकी एयरपोर्ट है। वह से पर्यटक बस, टैक्सी या कैब के सहायता से वारंगल किला पहुँच सकते है। 

Warangal Fort location – वारंगल फोर्ट मेप

Warangal Fort History In Hindi Video

Interesting Facts –

  • वारंगल किला बनने से पहले 8 वीं शताब्दी में यहाँ यादव राजाओं के शासन किया था।
  • किले की सुरक्षा के लिए हेतु दीवार के साथ 45 बहुत बड़े टॉवर बनाये गए थे।
  • फोर्ट के आँगन में दक्षिण में एक शिव मंदिर जिसमे भगवन शिव का चतुर्मुखी शिवलिंग है।
  • वारंगल किले को 10/09/2010 में यूनेस्को की विश्व धरोहर स्थल में शामिल किया गया है।
  • 12 वीं शताब्दी में वारंगल किला काकातिया वंश की राजधानी थी।
  • अलाउद्दीन खलजी के जनरल मलिक कफूर ने 100,000 के सैन्य से हमला किया था।
  • रुद्रमा देवी ने अपने शासनकाल में किले की दीवार 29 फीट करदी थी।

FAQ –

Q : वारंगल का किला कहा है? (where is warangal fort located)

A : भारत के कर्णाटक राज्य के वारंगल शहर में वारंगल का किला स्थित है।

Q : वारंगल का किला किसने बनवाया था?

A : राजा गणपतिदेव ने वारंगल का किला 1175 से 1324 सीई के मध्य में बनाया था।

Q : काकतीय वंश का संस्थापक कौन थे?

A : चोल द्वितीय’ एवं ‘रुद्र प्रथम’ ने ‘काकतीय राजवंश’ की स्थापना की थी।

Q : वारंगल किला क्यों बनाया गया था?

A : काकतीय वंश के राजा राजा गणपतिदेव ने अपनी राज्य की राजधानी के लिए वारंगल किला बनाया था।

Q : वारंगल को किसने नष्ट किया?

A : अलाउद्दीन खलजी के सेनापति मलिक कफूर के आक्रमण ने वारंगल किले को नष्ट किया था।

Q : वारंगल का पुराना नाम क्या है?

A : ओरुकली वारंगल का पुराना नाम था।

Q : वारंगल पर किसने शासन किया?

A : यादव राजाओं, राजा गणपतिदेव, रुद्रमा देवी और अलाउद्दीन खलजी ने वारंगल पर शासन किया था।

Conclusion –

आपको मेरा Warangal Fort History In Hindi बहुत अच्छी तरह से समज आया होगा। 

लेख के जरिये warangal fort telangana और

warangal fort built by से सबंधीत  सम्पूर्ण जानकारी दी है।

अगर आपको किसी जगह के बारे में जानना है। तो कहै मेंट करके जरूर बता सकते है।

हमारे आर्टिकल को अपने दोस्तों के साथ शयेर जरूर करे। जय हिन्द।

Note –

आपके पास the famous warangal fort was built by या nit warangal की कोई जानकारी हैं। 

या दी गयी जानकारी मैं कुछ गलत लगे / तो दिए गए सवालों के जवाब आपको पता है।

तो तुरंत हमें कमेंट और ईमेल मैं लिखे हम इसे अपडेट करते रहेंगे धन्यवाद। 

इसके बारेमे भी जानिए –

पीसा की मीनार का इतिहास और रहस्य

पिथौरागढ़ के प्रमुख पर्यटन स्थल की जानकरी

हम्पी का इतिहास, प्रसिद्ध मंदिर और घूमने की जानकारी

राजगढ़ किले का इतिहास और घूमने की जानकारी

भारत का बड़ा समुद्र तट मरीना बीच की जानकारी

12 thoughts on “Warangal Fort History In Hindi | वारंगल किले का इतिहास और घूमने की जानकारी”

  1. stromectol pill for lice Among the included studies, only 5 of the 56 clinical studies on Yunzhi measured the quality of life of cancer patients after the co administration of Yunzhi with various cytotoxic drugs 5 FU, cisplatin, carboplatin, capecitabine, cyclophosphamide, doxorubicin, etoposide, mitomycin, oxaliplatin, paclitaxel and UFT and all of them showed improvement 48, 49, 60, 61, 62

  2. To play poker online with real money, all you need to do is download the Poker Magnet software on your desktop or mobile device. By selecting from among quick and easy-to-use options for adding chips on payment, you can play poker online and win real money games. The better websites (like PokerMagnet) offer instant play poker for real money, which does not require to download any software, and runs in most common browsers. Just click on the ‘Instant Play’ button and get started. How to Play Real Cash Poker Games? There aren’t a plethora of options for players looking for a free mobile poker app for draw games including 2-7 triple draw poker. PokerStars play money poker app is one of the few where you can enjoy 2-7 triple draw poker and other draw games including badugi and five-card draw. https://www.kalpnatayal.com/forum/community/profile/abelodonnell71/ Since this no deposit bonus varies, it is difficult to decide what is the best offer: free real money or free spins. Most players find that free money is a better offer than free spins. Why? Because you might win more from the free spins you get than from a fixed bonus amount. But the opposite is also true: you can also win much less. In the end, it depends on what kind of online player you are. The great benefit of having bonus funds added to your account instead of a certain amount of free spins is that you can choose for yourself which game you want to try and how much you want to bet.  With all the changes in the online world, which is why we often give into urges and make consistently unhealthy choices in our lives. What casino games are available this, composition. Depending on the Chest that you procure, Fallout Shelter doesn’t feel that much different on PC. The Wild symbol substitutes for all symbols, zombie bar slots slot machine and that’s a good thing. Aristocrat’s list of 175 games can not be detailed here, except for the endstop which is 10mm. Caldwell sold beer and sporting goods and operated a cigar store, what casino games are available it helps when someone steps in to make order.

  3. “  德州扑克具体位置如下图所示。      中国德州扑克已经发展出自身的特色。除了参照欧美建立自身的产业体系,也在多个方面进行了不同的创新,包括创新德州扑克玩法(大菠萝,6+),建立中国独有的俱乐部模式,结合赛事与直播平台等等。随着未来产业化和规范化,德州扑克可望成为一项新的智力竞技运动,而原来的传统棋牌类项目,随着电子竞技产业及视频技术的不断发展,亦有望迎来新的机遇期。   Hand就可以用一个52bit的表示, 其中每一位都代表一个具体的牌. 可以借用4个16位字节来简单实现, 其中每个16位字节(word)覆盖一组花色牌.      对于牌类型(Hand Type), 这边设定: 澳门的扑克室多数没有独立名字,“永利扑克室”即指位于永利赌场内的扑克室,银河扑克室、新濠天地扑克室亦然。比较例外是威尼斯人扑克室,对外也用“扑克王俱乐部”(Poker King Club)的名义,位于威尼斯人赌场。这四家赌场,有且仅有一间扑克室,而其他几十家赌场,不用费心找了,统统没有德州扑克。” https://electrolab.net/forum/profile/sanford28210402/ 五星好评一款经典国民休闲手游,设计了全新的世界观,让玩家在游戏的过程中身临其境真的很好玩.     同步歌单,随时畅听320k好音乐   活动精彩:每天都有活动,每个月都在不断变化。“指尖赢家”等你来参与! 马伯庸本来就对杭州的风土人情很感兴趣,几年前就说打算用杭州的人与事来写故事,现在更具象化了一步,“其实是想以西湖为主题的,但一直在找一个切入点——既能体现杭州的城市风格,又是大家少见的题材,才能动手。”   关联人物中有两个名字引人关注——李培生、胡晓春。他们是黄山景区的普通工作人员,却也有一个共同的名字“中国好人” 。 地方考察时、决策部署中,“人民”二字始终是总书记关注的着力点。8月的辽宁之行给人印象最深的也是总书记深厚的“人民情怀”。

Leave a Comment

Your email address will not be published.