Victoria Memorial Information In Hindi

Victoria Memorial Information In Hindi | विक्टोरिया मेमोरियल कोलकाता

नमस्कार दोस्तों Victoria Memorial In Hindi में आपका स्वागत है। आज हम विक्टोरिया मेमोरियल कोलकाता की जानकारी में  आपको Timings, History, Images और Entry Fee की सम्पूर्ण जानकारी बताने वाले है। भारत के पश्चिम बंगाल राज्य के कोलकाता शहर के बिच स्थित विक्टोरिया मेमोरियल ब्रिटिश राज का एक अवशेष है। महारानी विक्टोरिया ने अपने 25 साल के शासन की स्मृति में यह भव्य संरचना को बनाया गया था। सफेद संगमरमर से बनी खूबसूरत संरचना कोलकाता के केंद्र में स्थित है। स्मारक एक हरे-भरे और सुव्यवस्थित बगीचे से घिरा यह पैलेस लंदन में विक्टोरिया मेमोरियल की प्रतिकृति है।

64 एकड़ में फैले victoria मेमोरियल में कई मूर्तियाँ हैं। क्योकि विक्टोरिया मेमोरियल में विभिन्न गैलरी हैं। स्मारक के शीर्ष पर बॉल बेयरिंग पर घुड़सवार विजय की सोलह फुट ऊंची कांस्य प्रतिमा, पूरे परिसर की समग्र अपील और भव्यता को बढ़ाने का काम करती है। विक्टोरिया मेमोरियल लुभावनी और अद्भुत है, खासकर रात में, जब इसे रोशन किया जाता है। शाम के समय होने वाला साउंड एंड लाइट शो एक अतिरिक्त आनंद है, और इसे अवश्य देखना चाहिए। भारत के वायसराय लॉर्ड कर्जन की देखभाल में बना यह शानदार स्मारक पर्यटकों के बीच काफी मशहूर है। तो चलिए Places To Visit In Kolkata शुरू करते है। 

History Of Victoria Memorial In Hindi

विक्टोरिया मेमोरियल का इतिहास देखे बहुत ही दिलचस्प है। भारत के वायसराय लॉर्ड कर्जन ने मृत रानी विक्टोरिया के स्मारक के रूप में विक्टोरिया मेमोरियल की स्थापना की थी। जनवरी 1901 में रानी की मृत्यु के पश्यात 6 फरवरी, 1901 को कलकत्ता के टाउन हॉल में एक बड़ी बैठक बुलाई गई थी। उसमे स्मारक के निर्माण के लिए प्रस्ताव पेश किया गया था। भारत के राजकुमारों और लोगों ने धन के लिए उनकी अपील का उदारतापूर्वक जवाब दिया था।

विक्टोरिया मेमोरियल को बनाने के लिए धन भारत के लोगों से जुटाया गया था।यह स्मारक के निर्माण की कुल लागत एक करोड़, पांच लाख रुपये थी। प्रिंस ऑफ वेल्स, किंग जॉर्ज पंचम ने 4 जनवरी, 1906 को आधारशिला रखी थी और इसे औपचारिक रूप से 1921 में जनता के लिए खोल दिया गया था।

Victoria Memorial Images
Victoria Memorial Images

इसके बारेमे भी जानिए – असम राज्य के सबसे महत्वपूर्ण शहर डिब्रूगढ़ के टॉप पर्यटन स्थलों की जानकारी

Architecture And Design Of Victoria Memorial

विक्टोरिया मेमोरियल की वास्तुकला और डिजाइन बेहद खूबसूरत है। विक्टोरिया मेमोरियल का वास्तुकार रॉयल इंस्टीट्यूट ऑफ ब्रिटिश आर्किटेक्ट्स के अध्यक्ष विलियम एमर्सन हैं। उन्होंने एक ही समय में मिस्र के वेनिस, मुगल और अन्य इस्लामी शैलियों से प्रेरणा लेते हुए स्मारक को इंडो-सरैसेनिक शैली में बनाया है। 184 फीट ऊंची इमारत को सफेद रंग के मकराना मार्बल के साथ बनाई गई है। उसको जोधपुर, राजस्थान से मंगवाया गया था। उसका विशाल गार्डन 64 एकड़ में फैला हुआ हैं। उसको वनस्पतिशास्त्री डेविड पेन और लॉर्ड रेडडेल ने डिजाइन किया था।

विक्टोरिया मेमोरियल जाने का सबसे अच्छा समय

Best Time To Visit Victoria Memorial की  बात करे तो विक्टोरिया मेमोरियल में घूमने का अच्छा समय सर्दियों के महीनों में है। यहाँ नवंबर से ही फरवरी महीने के समय में भीड़ हुआ करती है। सर्दियों के मौसम में साउंड एंड लाइट शो आयोजित होता है। वह एक ओपन-एयर शो जिसमे कोलकाता के इतिहास की झलक देखने को मिलती है। जुलाई से सितंबर महीने में यहाँ कोई शो नहीं होता है। और मानसून में भी शो का संचालन संभव नहीं होता है। यहां रंगीन फाउंटेन शो भी बहुत लोकप्रिय है।

Victoria Memorial Photo gallery
Victoria Memorial Photo gallery

Tips For Visiting Victoria Memorial

  • विक्टोरिया मेमोरियल के प्रवेश द्वार पर पर्यटकों चारों ओर से देखने के लिए गाड़ियां उपलब्ध हैं।
  • पर्यटक विक्टोरिया मेमोरियल हॉल में फोटोग्राफी नहीं कर सकते है।
  • क्योकि मुख्य भवन के अंदर फोटोग्राफी प्रतिबंधित है।
  • जिस पर्यटक को गैलरी देखने में रूचि नहीं है। उसको गार्डन ओनली टिकट विकल्प उपलब्ध है।
  • विक्टोरिया मेमोरियल में पार्किंग की सुविधा नहीं है।
  • उसके लिए जानकारी हेतु पर्यटक टिकट काउंटर पर पूछ सकता है।

Victoria Memorial Timings and Entry Tickets

विक्टोरिया मेमोरियल टाइमिंग्स और एंट्री टिकट की बात बताये तो विक्टोरिया मेमोरियल गैलरी मंगलवार से रविवार के दिनों में सुबह 10:00 बजे से शाम 5:00 बजे तक शुरू रहती है। विदेशि पर्यटकों के लिए प्रवेश शुल्क 200 रूपए और हमारे भारतीय नागरिको के लिए प्रवेश शुल्क 20 रूपया रखा गया है। भारतीय सेना के जवानों और बारहवीं कक्षा तक के स्कूली बच्चों के लिए यहाँ कोई प्रवेश शुल्क नहीं लिया जाता है। यानि आर्मी जवान और स्कूली बच्चों के लिए Entry Fee नहीं है।

Victoria Memorial Photos
Victoria Memorial Photos

इसके बारेमे भी जानिए – असम के खूबसूरत पार्क काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान घूमने की सम्पूर्ण जानकारी 

Victoria Memorial Garden

64 एकड़ के क्षेत्र में फैला Gardens Of Victoria Memorial डेविड पेन और रेडडेल ने डिजाइन किया गया स्मारक के आसपास का बाग है। विक्टोरिया मेमोरियल के बगीचे के रखरखाव के लिए वर्त्तमान समय में 21 बागवानों की टीम रखी है। उत्तर में गेट की ओर कांस्य सिंहासन पर रानी विक्टोरिया की प्रतिमा देखने को मिलती है। सर जॉर्ज फ्रैम्पटन रानी को उनके सिंहासन पर बैठे हुए चित्रित करता है। विक्टोरिया मेमोरियल का गार्डन बेहद खूबसूरत दिखाई देता है। विक्टोरिया मेमोरियल के बगीचे में असंख्य मूर्तियां देखने को मिलती हैं। बगीचे के चारों ओर घूमने से एडवर्ड VII, कर्जन, हेस्टिंग्स और डलहौजी की मूर्तिया देख सकते है।

मातृत्व, वास्तुकला, शिक्षा और न्याय जैसी अलंकारिक मूर्तियां भी यहां देखने  मिलती हैं। गार्डन में कॉर्नवॉलिस, क्लाइव, हेस्टिंग्स, बेंटिनक, डलहौजी, वेलेस्ली, एंड्रयू एच.एल. फ्रेजर, राजेंद्रनाथ मुखर्जी और रिपन, जैसी कई प्रतिमाएं स्थापित हैं। 64 एकड़ में फैले उद्यान को देखने का सबसे अच्छा समय सुबह का होता है। यह पार्क सभी दिनों में सुबह 5:30 से शाम 6:15 बजे तक खुला रहता हैं। उसमे प्रवेश के लिए प्रवेश शुल्क 10 रूपए है।

Victoria Memorial Light & Sound Show

विक्टोरिया मेमोरियल में अक्टूबर से जून तक एक लाइट एंड साउंड शो आयोजित होता है। उसको सोन-एट-लुमियर कहा जाता है। यह दिलचस्प शो सोमवार, होली के त्योहार, राष्ट्रीय अवकाश के दिन प्रदर्शित नहीं होता है और जुलाई से सितंबर तक बंद रहता है। दूसरा शो प्राइड एंड ग्लोरी है। उसमे कलकत्ता की कहानी और हिस्ट्री बताई जाती है। उस शो को बंगाली और अंग्रेजी भाषाओं में आयोजित किया जाता है। विक्टोरिया मेमोरियल लाइट एंड साउंड शो की टाइमिंग निचे दी है।

विक्टोरिया मेमोरियल कोलकाता
विक्टोरिया मेमोरियल कोलकाता

अक्टूबर से फरवरी

  • बंगाली शो – शाम 6:15 से 7:00 बजे तक
  • अंग्रेजी शो – शाम 7:15 से 8:00 बजे तक

मार्च से जून

  • बंगाली शो – शाम 6:45 से 7:30 बजे तक
  • अंग्रेजी शो – शाम 7:45 से 8:30 बजे तक

Galleries and Exhibitions at Victoria Memorial 

विक्टोरिया मेमोरियल में गैलरी और प्रदर्शनी में यात्रिओ को नेशनल लीडर्स गैलरी, मूर्तिकला गैलरी, रॉयल गैलरी, पोर्ट्रेट गैलरी, कलकत्ता गैलरी और सेंट्रल हॉल के साथ 25 से ज्यादा दीर्घाओं के साथ, विक्टोरिया मेमोरियल में दुर्लभ और प्राचीन पुस्तकों का एक योग्य और सराहनीय संग्रह है। Gallery And Exhibitions In Victoria Memorial में शेक्सपियर की सचित्र रचनाएं, अरेबियन नाइट्स और संगीत और नृत्य पर लिखी कई पुस्तकें दिखाई देती हैं। यह स्मारक चित्रों, हथियारों, कलाकृतियों, टिकटों, और वस्त्रों का  उत्कृष्ट और उल्लेखनीय संग्रह का खजाना है। उसके साथ पर्यटक पोर्ट्रेट गैलरी, द नेशनल लीडर्स गैलरी, मूर्तिकला गैलरी, सेंट्रल हॉल, आर्म्स एंड आर्मरी गैलरी भी देख सकते हैं।

विक्टोरिया मेमोरियल की फोटो
विक्टोरिया मेमोरियल की फोटो

Calcutta Gallery In Victoria Memorial

विक्टोरिया मेमोरियल में कलकत्ता गैलरी भारत की पहली सिटी गैलरी पर्यटकों देख सकते है। गैलरी स्थापना के लिए शिक्षा मंत्री प्रो.एस. नुरुल हसन ने पहल की थी। स्थापना का उद्देश्य दुनिया के विद्वानों को स्मारक की ओर आकर्षित करना था। गैलरी में आर बी दत्ता की माइकल मधुसूदन दत्त, बिपिन बिहारी दत्ता, राम मोहन राय, कलकत्ता और हावड़ा के बीच पोंटून पुल, कार्ड प्लेयर भबानी चरण लाहा की देवेंद्रनाथ टैगोर, श्रीमती बेलनोस की पायकर या पैडलर्स, बेनी माधब भट्टाचार्जी की देवी काली की पेंटिंग्स देख सकते हैं।  वर्तमान में victoria memorial में अंग्रेजी और बंगाली शो आयोजित होता है। उस शो का समय निचे दिया गया है।

अक्टूबर से फरवरी
बंगाली शो – शाम 6:15 से 7:00 बजे तक
अंग्रेज़ी शो – शाम 7:15 बजे से 8:00 बजे तक

मार्च से जून
बंगाली शो – शाम 6:45 से 7:30 बजे तक
अंग्रेज़ी शो – शाम 7:45 से 8:30 बजे तक

इसके बारेमे भी जानिए – हिमाचल प्रदेश के 10 सबसे खास पर्यटन स्थल घूमने की जानकारी

These Are Things In Victoria Memorial Gallery

गैलरी में क़ीमती कलाकृतियों में शामिल हैं। जैसे की 1829 में विक्टोरिया को उपहार में दिया गया एक पियानो है। वह विक्टोरिया 10 साल उम्र की थी उस समय उन्हें उपहार मिला था। उसको victoria memorial hall की सेंट्रल गैलरी में रखा गया है। उसके एक राइटिंग डेस्ट भी आकर्षण का केंद्र है। उसका उपयोग क्वीन विक्टोरिया ने विंडसर कैसल में किया था। दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी तेल से बनी चित्रकला जयपुर जुलूस है। 1876 में राजा एडवर्ड 7 को राज्य देखने समय दिखाया गया है।

विक्टोरिया मेमोरियल की फोटो गैलरी
विक्टोरिया मेमोरियल की फोटो गैलरी

गैलरी में प्रदर्शित चित्रों में दिखाई जाने वाली कहानी

  • 1838 – वेस्टमिंस्टर एब्बे में विक्टोरिया के राज्याभिषेक का संस्कार
  • 1840 – सेंट जेम्स पैलेस में विक्टोरिया की अल्बर्ट से शादी
  • 1842 – प्रिंस ऑफ वेल्स का नामकरण
  • 1863 – राजकुमारी एलेक्जेंड्रा की प्रिंस ऑफ वेल्स से शादी
  • 1887 – पहली जुबली सेवा।
  • 1897 – सेंट पॉल कैथेड्रल में दूसरी जुबली सेवा।

विक्टोरिया मेमोरियल के आसपास के आकर्षण

  • Elliot Park
  • Maidan
  • Paul’s Cathedral
  • P. Birla Planetarium
  • Netaji Bhawan
  • Marble Palace Mansion
  • Shaheed Minar
  • Indian Museum
  • Calcutta Town Hall
  • Raj Bhawan
  • Fort William Kolkata
  • Tipu Sultan Shahi Mosque
  • Prinsep Ghat
  • Writers Building
  • South Park Street Cemetery
  • Belur Math
  • Kalighat Temple
  • Magen David Synagogue
  • Metcalfe Hall
  • Howrah Bridge

    विक्टोरिया मेमोरियल इमेज
    विक्टोरिया मेमोरियल इमेज

How To Reach Victoria Memorial विक्टोरिया मेमोरियल तक कैसे पहुंचे

विक्टोरिया मेमोरियल परिवहन के सभी साधनों से पर्यटक बहुत आसानी से पहुँच सकता है। आप टैक्सी, बस या ऑटो रिक्शा से इस जगह की यात्रा कर सकते हैं। अगर मेट्रो से जा रहे हैं, तो मैदान मेट्रो और रवींद्र सदन मेट्रो स्टेशन निकटतम हैं। यहाँ से प्रिंसेप घाट और बिंदन घाट से नियमित रूप से ट्रेने चलती है। अगर आप फ्लाइट से जा रहे हैं। तो आपको कोलकाता शहर के लिए कई फ्लाइट्स मिल जाएंगी। नेताजी सुभाष चंद बोस इंटरनेशनल एयरपोर्ट से विक्टोरिया मेमोरियल 22 किमी दूर है।

इसके बारेमे भी जानिए – भारत के सबसे बड़ी और विवादास्पद परियोजना सरदार सरोवर बांध

Victoria Memorial Map विक्टोरिया मेमोरियल का लोकेशन

Victoria Memorial Information In Hindi Video

Interesting Facts About Victoria Memorial

  • यह पश्चिम बंगाल के कोलकाता में स्थित एक ब्रिटिश कालीन स्मारक है।
  • Victoria Memorial Kolkata रानी विक्टोरिया को समर्पित भव्य संरचना है।
  • 57 एकड़ भूमि पर निर्मित विक्टोरिया मेमोरियल को राज का ताज कहा जाता है।
  • यह खूबसूरत संरचना एक संग्रहालय और पर्यटकों के आकर्षण का केंद्र है।
  • विशाल संगमरमर की संरचना 1906 और 1921 के बीच विकसित की गई थी।
  • विक्‍टोरिया मेमोरियल संग्रहालय के पास नौ दीर्घाओं में 28,394 कलाकृतियाँ प्रदर्शित हैं।
  • 19 वीं शताब्दी में बनाया गया विक्टोरिया मेमोरियल हाल की कुल लागत 1 करोड़ 5 लाख रुपये थी।

FAQ

Q .कोलकाता में विक्टोरिया मेमोरियल कहाँ है?

विक्टोरिया मेमोरियल क्वींस वे, मैदान, कोलकाता शहर में स्थित है।

Q .विक्टोरिया मेमोरियल किसने और क्यों बनवाया?

विक्टोरिया मेमोरियल हॉल वायसराय लॉर्ड कर्जन ने रानी विक्टोरिया की याद में बनवाया गया था।

Q .विक्टोरिया मेमोरियल किस लिए प्रसिद्ध है?

विक्टोरिया मेमोरियल कोलकाता के प्रसिद्ध और खूबसूरत स्मारकों में से एक है। 

Q .विक्टोरिया मेमोरियल के अंदर क्या है?

विक्टोरिया मेमोरियल एक संग्रहालय और लोकप्रिय पर्यटन स्थल है।

Q .क्या विक्टोरिया मेमोरियल एक ऐतिहासिक स्थान है?

हा यह भारत के सबसे प्रसिद्ध स्मारकों में से एक है। 

Q .रानी विक्टोरिया मेमोरियल किससे बना है?

रानी विक्टोरिया मेमोरियल सफ़ेद संगमरमर और पीतल से बना है।

Q .विक्टोरिया मेमोरियल एक विश्व विरासत स्थल है?

2 जुलाई 2004 को विक्टोरिया मेमोरियल को यूनेस्को ने विश्व विरासत स्थल के रूप में नामित किया है ।

Q .विक्टोरिया मेमोरियल का निर्माण करने वाला कौन है?

विक्टोरिया मेमोरियल का निर्माण करने वाला केवल लॉर्ड कर्ज़न है।

Q .क्या हम विक्टोरिया मेमोरियल के अंदर भोजन ले जा सकते हैं?

विक्टोरिया मेमोरियल के मुख्य हॉल में नहीं लेकिन बगीचे में भोजन ले सकते हैं। 

Conclusion

आपको मेरा Victoria Memorial Information बहुत अच्छी तरह से समज आया होगा। 

लेख के जरिये Where is victoria memorial, Rani victoria और

When was victoria memorial built से सबंधीत सम्पूर्ण जानकारी दी है।

अगर आपको किसी जगह के बारे में जानना है। तो कहै मेंट करके जरूर बता सकते है।

हमारे आर्टिकल को अपने दोस्तों के साथ शयेर जरूर करे। जय हिन्द।  

Note

आपके पास Victoria memorial today, Book my show kolkata या 

Victoria memorial architecture की जानकारी हैं। 

या दी गयी जानकारी मैं कुछ गलत लगे / तो दिए गए सवालों के जवाब आपको पता है।

तो तुरंत हमें कमेंट और ईमेल मैं लिखे हम इसे अपडेट करते रहेंगे धन्यवाद। 

! साइट पर आने के लिए आपका धन्यवाद !

अगर आपको यह पोस्ट पसंद आया हो तो इसे अपने दोस्तों को जरूर शेयर करें !

इसके बारेमे भी जानिए – ओडिशा के संबलपुर में महानदी पर निर्मित हीराकुंड बांध का इतिहास और घूमने की पूरी जानकारी

Leave a Comment

Your email address will not be published.