Nehru Zoological Park In Hindi | नेहरू जूलॉजिकल पार्क की सम्पूर्ण माहिती

Nehru Zoological Park In Hindi | नेहरू जूलॉजिकल पार्क की सम्पूर्ण माहिती

हैदराबाद का 200 साल पुराना पर्यटक स्थल Nehru Zoological Park In Hindi में आप सभी का स्वागत है। आज हम भारत के सबसे बड़े चिड़ियाघर नेहरू जूलॉजिकल पार्क की सम्पूर्ण माहिती बताने वाले है। 

Nehru Zoological Park hyderabad से तक़रीबन 16 किलोमीटर दूर यह ऐतिहासिक उद्यान उपस्थित है। यह हैदराबाद में मीर आलम तालाब के बहुत नजदीक और हैदराबाद शहर के सबसे लोकप्रिय पर्यटन स्थानों में से एक है। यह आर्टिकल में हम Nehru Zoological Park address, Nehru Zoological Park timings and entry fee और Nehru Zoological Park tickets online बुकिंग कैसे करते है। उस की माहिती देने है। 

यह उद्यान का नाम करण देश के पहले प्रधान मंत्री जवाहरलाल नेहरू के नाम पर रखा गया है। और उनका संचालन तेलंगाना सरकार के वन विभाग द्वारा किया जाता है। नेहरू प्राणी उद्यान को 1963 की साल में यात्रलुओ के लिए खोला गया था। यहा हमारे देश का सबसे बड़ा चिड़ियाघर निर्मणा हुआ है। और पार्क में सरीसृपों, स्तनधारियों और पक्षियों की तक़रीबन 1,500 प्रजातियां मौजूद हैं।

Table of Contents

Nehru Zoological Park Hyderabad History In Hindi –

नेहरू जूलॉजिकल पार्क और चिड़ियाघर की स्थापना का मुख्य उद्देश्य वन्यजीवों के बारे में लोगो को जागरूकता पैदा करना एव शिक्षित करना था। यह स्थान तक़रीबन 380 एकड़ जमीन में फैला हुआ है। उसका प्रयोग लुप्तप्राय प्रजातियों के प्रजनन और संरक्षण के किया जाता है। वर्ष 1959 की साल में नेहरू जूलॉजिकल पार्क की स्थापना हुई थी।

मगर 6 अक्टूबर 1963 को यह पार्क को यात्रलुओ के लिए खोल दिया गया था। उनके निर्माण के बाद उसमे कई बदलाव और सुधर किये गए है। जैसे की 1982 की साल में निशाचर पशु गृह और 1974 की साल में लायन सफारी पार्क की स्थापना हुई थी। यहाँ जानवरों के पुनर्वास, व्यवहार और प्रजनन पैटर्न में सहयोग दिया जाता है। 

इसके बारेमे भी जानिए – गोलकुंडा किला का इतिहास

Nehru Zoological Park में वन्यजीव –

हैदराबाद के नेहरू जूलॉजिकल पार्क में वन्य जीवन के लिए एक समृद्ध स्थान है। यह चिड़ियाघर पार्क में पक्षियों, जानवरों और स्तनधारि वन्य जिव की 140 से अधिक प्रजातियां देखने को मिलती हैं। यह मीर आलम टैंक विस्व भर के यात्रलुओ को एव पक्षियों को आकर्षित करता है। यह निवास करते जीवो की कुछ विस्तृत माहिती हम दी है जो जीवों की प्रजातियां चिड़ियाघर में पाई जाती हैं।

पक्षी प्रजातियां – 

जैसे की तीतर, चील, कॉकटेल, तोते, एवियन जीव- उल्लू, पेलिकन, बत्तख, लव बर्ड्स, गीज़, लॉरी, बगुले, मकोव, सारस, हॉर्नबिल,  बगुले, गिद्ध, सारस और तोते भी देखने को मिलते है। 

स्तनधारी प्रजातियां –

यहाँ कृंतक, शाकाहारी, मांसाहारी और सर्वाहारी प्रकार प्रजातियां देखने को मिलती है। भारतीय हाथी, सांभर हिरण, भारतीय गैंडा, एशियाई शेर, बंगाल टाइगर, पैंथर, गौर, मछली पकड़ने वाली बिल्ली, तेंदुआ बिल्ली, चीता, जगुआर, सुस्त भालू, लकड़बग्घा, भेड़िया, जंगली कुत्ता, लोमड़ी, काला भालू, सूरज भालू, जंगली सूअर सिवेट, काला हिरण, जिराफ, दलदल हिरण, हॉग हिरण, नीलगाय/नीला बैल, ऑलिव बबून, कॉमन लंगूर, नीलगिरि लंगूर, दरियाई घोड़ा, चौसिंघा, माउस हिरण, थामिन हिरण, चित्तीदार हिरण, भौंकने वाला हिरण,  हॉग हिरण, साही & विशाल गिलहरी, सेक्रेड बैबून रेड पाटस मंकी, चिंपैंजी, रीसस मैकाक लायन टेल मैकाक और बोनट मैकाक जसे जानवर पाए जाते है। 

सरीसृप प्रजातियां –

जूलॉजिकल पार्क में सरीसृप प्रजातियां की बात करे तो अजगर, कोबरा, रसेल वाइपर, खारे पानी का मगरमच्छ, चैमेन। किंग कोबरा, मगरमच्छ जैसे दलदली मगरमच्छ, घड़ियाल, सैंड बोआ, रैट स्नेक, ग्रीन बेल स्नेक जैसे सांप। और छिपकली जैसे मॉनिटर छिपकली, हरा लगुना, गिरगिट कछुओ की बात बताये तो लाल कान वाला कछुआ, भारतीय सोफ्टशेल कछुआ, मेलानोचेली कछुआ। 

इसके बारेमे भी जानिए – बेलूर मठ का इतिहास और गुमने की जानकारी

Nehru Zoological Park की सुविधाएं –

यात्रलुओ के लिए नेहरू जूलॉजिकल पार्क में विभिन्न सुविधाएं प्रदान की जाती है। जिससे व्यक्त्ति की यात्रा और भी आसान एव यादगार हो जाती है। यहाँ आपको प्राथमिक चिकित्सा सुविधा, सुरक्षित पेयजल, बैटरी से चलने वाले वाहन, शौचालय और वॉशरूम, अलग पार्किंग क्षेत्र के साथ आराम के लिए बेंच और अन्य ठहर ने के स्थान शामिल है। आराम के लिए पूरे पार्क में बेंच रखी गई है।

कोई भी यात्रलु अपना पूरा दिन नेहरू जूलॉजिकल पार्क में व्यतीत करना चाहता है  तो उनके लिए भी रहने के लिए सुविधाएं उपलब्ध है। जूलॉजिकल पार्क में गेस्ट हाउस सुबह 9 बजे से शाम 5.50 बजे तक का किराया 500 रुपये है। यहाँ आप 10 लोगों के समूह के लिए एक कमरा ले सकते है।  यह पार्क में दो कैंटीनो में बहु-व्यंजन और फूड कोर्ट का लुप्त उठा सकते है। उसमे बेकरी आइटम, पेय पदार्थ और स्नैक्स भी मिलता है।  

Nehru Zoological Park In Hindi | नेहरू जूलॉजिकल पार्क की सम्पूर्ण माहिती
Nehru Zoological Park In Hindi | नेहरू जूलॉजिकल पार्क की सम्पूर्ण माहिती

Nehru Zoological Park में करने के लिए चीजें – 

पार्क में यात्रलुओ के लिए ढेर सारी चीज़ें मिलेंगी, यह हैदराबाद और सिकंदराबाद के लिए एक लोकप्रिय पिकनिक स्थल, चिड़ियाघर पार्क मनोरंजन के लिए विविधता उत्पन्न करता है। 

टाइगर और लायन सफारी-

Nehru Zoological Park hyderabad safari – पार्क में पर्यटकों के बीच सवारी उस थान का मुख्य आकर्षण है। बाइसन सफारी, टाइगर सफारी, लायन सफारी, और बियर सफारी में से कोई भी पसंद कर सकते है। सफारी के लिए टिकट का शुल्क वयस्कों के लिए 50 रुपये और 3 से 10 साल के नन्हे बच्चों के लिए 30 रुपये रखा गया है। सफारी से आपको विभिन्न जंगली जानवरों जैसे की हिरण, बाघ, शेर, सुस्त भालू आदि के दृश्य को देखने का एक अलग ही मजा मिलता है। कभी कतार में अपनी बारी के इंतजार तक़रीबन एक घंटा भी लगता है। अगर आप अपने बच्चों के साथ यात्रा करते हैं। तो जलपान का इन्तजाम जरूर करे। 

टॉय ट्रेन-

हैदराबाद चिड़ियाघर की यात्रा का टॉय ट्रेन महत्वपूर्ण हिस्सा है। क्योकि यह बच्चों के लिए बहुत ही लोकप्रिय है। 3 से 10 साल की उम्र के बच्चों के लिए ट्रेन की सवारी 10 रुपये में कराइ जाती है। वयस्कों का शुल्क 20 रुपया रखा गया है। यह ट्रेन तब ही चलाई जाती है ,जब वह फुल हो जाती है। उसके लिए तक़रीबन आधा घंटा भी लगता है। छोटी गाड़ी यानि टॉय ट्रेन कोई भी स्तन नहीं रुकती है। 

साइकिल की सवारी-

साइकिल की सवारी हैदराबाद के चिड़ियाघर पार्क की एक और मजेदार गतिविधि है। यहाँ आपको 20 रूपये प्रति घंटे के चार्ज पर  साइकिलें उपलब्ध होती हैं।

छोटी गाड़ी / बैटरी से चलने वाले वाहन-

पर्यावरण के अनुकूल में यहाँ बैटरी से चलने वाले वाहन भी उपलब्ध हैं। वह चिड़ियाघर पार्क में बहुत आसानी की पेश करता है। क्योकि पर्यटक बग्गी/प्राम के साथ पार्क के जीव और वनस्पतियों की शेर करते हुए आरामदायक सवारी का मजा ले सकते हैं। बग्गी राइड का में वयस्कों के लिए 60 रुपये और नन्हे बच्चों के लिए 40 रुपये चार्ज किया जाता है। छोटी गाड़ी की सवारी लगभग 30 मिनट से 1 घंटे तक चलती है।

Nehru Zoological Park नौका विहार-

मीर आलम नदी में नौका विहार नेहरू जूलॉजिकल पार्क का एक और आकर्षण है। नौका विहार का संचालन टीएसटीडीसी द्वारा किया जाता है। नदी में यात्रीओ को नौकाओं के अलावा स्पीड बोट का भी माज ले सकते हैं।

चिल्ड्रन पार्क-

नन्हे बच्चो के लिए हैदराबाद चिड़ियाघर में बच्चों का ध्यान भी रखा गया है। और उनके लिए एक अलग चिल्ड्रन पार्क है।

जुरासिक पार्क-

जुरासिक पार्क बच्चों के लिए एक आकर्षण क्योकि जुरासिक पार्क में ब्रोंटोसॉरस, ट्राइसेराटॉप्स, स्टेगोसॉरस और टायरानोसॉरस जैसी विभिन्न डायनासोर प्रजातियों के आदमकद आंकड़े मौजूद हैं। और उनके साथ पार्क में प्रत्येक प्रजाति के बारे में जानकारी भी उपलब्ध है।

बटरफ्लाई पार्क-

बटरफ्लाई पार्क की स्थापना 1988 में हुई थी, उसमे तितलियों की असंख्य जातीया भी उपलब्ध है। जिनको पूरा साल देखा जाता है। नेहरू प्राणी उद्यान हैदराबाद भारत का पहला चिड़ियाघर है। जिसने पूरी तरह से तितलियों को समर्पित पार्क मौजूद है।

साप्ताहिक शैक्षिक कार्यक्रम-

नागरिको में वन्य जीवन के बारे में जागरूकता पैदा करने के लिए यह कार्यक्रम की शुरुआत हुई हैं। यहाँ साप्ताहिक शैक्षिक कक्षाएं और जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं। पार्क में आयोजित कार्यक्रम की बात करे तो टाइगर टॉक (मंगलवार), हाथी टॉक (बुधवार), कैनाइन क्लासेस (गुरुवार), बर्ड स्कूल (शुक्रवार), मगरमच्छ कोचिंग (शनिवार) और सांप जागरूकता शो (रविवार) आयोजित किया जाता हैं।

एक्वेरियम-

नेहरू पार्क के विशाल एक्वेरियम में कई जलीय प्रजातियां, मीठे पानी के साथ-साथ समुद्री जल प्रजातियां भी देखने को मिलती हैं। विदेशी मछलियां और उनकी रंगीन विशेषताएं हर यात्रालु को आकर्षित किया करती हैं।

संग्रहालय-

संग्रहालय एक और खंड है जिसे हैदराबाद में चिड़ियाघर पार्क के दौरे के दौरान अवश्य जाना चाहिए। इसमें विभिन्न जानवरों के टैक्सिडर्मी मॉडल के साथ-साथ जैव विविधता संरक्षण पर विभिन्न प्रदर्शनियां, विभिन्न जानवरों के इंटरैक्टिव कॉल के साथ पैनल बोर्ड, जानवरों के सबूत जैसे उनके पग मार्क, पंख आदि शामिल हैं।

निशाचर घर-

नेहरू प्राणी उद्यान के यह हिस्से में रात और दिन को उल्टा करदिया है। क्योकि रात के जानवरों जैसे चमगादड़, लोरिस, सिवेट, उल्लू, बिल्लियाँ आदि के लिए सक्रिय रहने का वातावरण तैयार करना पड़ता है। यह स्थान को देखने के लिए 3 से 10 साल तक के बच्चों के लिए निशाचर घर में प्रवेश शुल्क 10 रुपये और वयस्कों के लिए 20 रुपया शुल्क लिया जाता है। 

Nehru Zoological Park पार्क की विशेषता –

Jawaharlal Nehru Zoological Park में वन्यजीवों के लिए उपयुक्त वातावरण के रखरखाव और उसके साथ बहुत अच्छी यात्रा करने के लिए कई सुविधाएं मिलती है। 

प्लास्टिक मुक्त क्षेत्र-

  • कुदरती वातावरण होने के कारन यह स्थान को प्लास्टिक मुक्त रखना बहुत ही आवश्यक है।
  • इसलिए यात्रालुओ को चिड़ियाघर परिसर में कोई भी प्लास्टिक बैग लाने के लिए अनुमति नहीं मिलती है।
  • अगर किसी के पास ऐसी चीज़ हो तो उन्हें प्रवेश द्वार पर सुरक्षा कर्मियों को जमा करना देना पड़ता है। 

सुरक्षा रखरखाव-

  • अप-टू-डेट सुरक्षा प्रणाली के लिए नेहरू चिड़ियाघर पार्क पर गर्व किया जाता है।
  • क्योकि संरक्षित क्षेत्र और लुप्तप्राय प्रजातियों की सुरक्षा के लिए पूरे पार्क में प्रशिक्षित सुरक्षा कर्मि रखे हुए है।
  • यह स्थान पर 50 से अधिक सुरक्षा गार्ड पार्क की सुरक्षा करते हुए तैनात हैं।
  • यहाँ अग्नि सुरक्षा भी है। जिसका उपयोग प्रशिक्षित कर्मचारि करते है। 

खोया और पाया-

यह पार्क में सुरक्षाकर्मी चिड़ियाघर परिसर के यात्रालुओ की कोई भी खोई गई वस्तु का पता लगाने में सहायता करते हैं।

पार्किंग सुविधा-

  • यात्रालुओ के वाहन के लिए यहाँ पार्किंग स्टैंड है।
  • उसका प्रयोग सुरक्षा कर्मियों से दिए जाते पार्किंग टिकट से किया जा सकता है।
  • टू व्हील और फोर व्हील वाहनों लिए पार्किंग उपलब्ध है। 

इसके बारेमे भी जानिए – बैंगलोर पैलेस का इतिहास और जानकारी 

नजदीकी होटल्स & गेस्ट हॉउस –

  • Treebo Trend dove
  • FabHotel Mansingh
  • Sree Chandana hotel
  • Lake View homes
  • Hotel Sai Prakash
  •  Diamond Restaurant
  • Padmavati Hotel
  •  Hotel Nishat
  • Fiza Hotel and bakers
  • Sai Kailash Dhaba

Nehru Zoological Park Timings –

  • Nehru Zoological Park timing – नेहरू जूलॉजिकल पार्क में जाने के लिए।
  • जुलाई से मार्च के महीने में पार्क का समय सुबह 8.30 बजे से शाम 5 बजे रखा जाता है।
  • और अप्रैल से जून के महीनों के समय में सुबह 8 बजे से शाम 5.30 बजे तक रखा जाता है।
  • Nehru Zoological Park timings hyderabad में जाने के लिए टिकटों की बुकिंग शाम 4.30 बजे बंद कर दिया जाता है।
  • Nehru Zoological Park working days की बात करे तो सोमवार को छोड़ कर सभी दिन यह खुला रहता है। 

नेहरू जूलॉजिकल पार्क प्रवेश शुल्क –

  • Nehru Zoological Park hyderabad entry fee की जानकारी बताये तो
  • 10 वर्ष तक के बच्चों के लिए 30 रुपये और वयस्कों के 50 रुपये है।
  • यहाँ सूटिंग के लिए भी प्रवेश दिया जाता है।
  • Zoo Park ticket price बच्चे के 40 और यस्कों के लिए 60 रुपये लिए जाते है।
  • अगर कोई सूटिंग लिए ट्रकों को अंदर जाना चाहता है।
  • उसके 1500 रुपया देना पड़ता है और सामान्य कैमरे के लिए 100 .
  • और पेशेवर वीडियो कैमरा के 500 रुपये शुल्क देना पड़ता है।
  • शूटिंग करने के लिए दिन के 8500 और जनरेटर के 1500 रुपये शुल्क का भुगतान करना पड़ता है। 

नेहरू जूलॉजिकल पार्क जाने का सबसे अच्छा समय –

Nehru Zoological Park information में आपको ज्ञात करदे की वहा जाने का सबसे अच्छा समय बताये तो सबसे अच्छे महीने जनवरी से मार्च और अक्टूबर से दिसंबर तक हैं। अगर बारिश  समय  बात बताये  उस वक़्त बहुत लाजवाब दिखाई देता है। वैसे तो पार्क पूरा साल हरा भरा रहता है। लेकिन सुहावनी गर्मी और सुहावने मौसम में यात्रा करना बहुत अच्छा रहता है। यहाँ का तापमान तक़रीबन 20 डिग्री से 30 डिग्री सेल्सियस के बीच रहता है। लेकिन शर्दियो में मौसम में 15 डिग्री से 25 डिग्री सेल्सियस चला जाता है। 

Nehru Zoological Park पहुँच ने के रास्ते –

  • यह Nehru Zoological Park hyderabad, telangana बहादुरपुरा में किशन बाग के पास मेइन रोड पर ही स्थित है।
  • पार्क मीर आलम टैंक के पास है। पार्क तक पहुंचने में कोई मुश्केली नहीं होती है।
  • यहाँ से हैदराबाद डेक्कन रेलवे स्टेशन लगभग 5 किमी दूर है।
  • वह स्टेशन को नामपल्ली रेलवे स्टेशन भी कहते है।
  • अगर आप को चिड़ियाघर पार्क पहुंचने में सिटी बस या सार्वजनिक परिवहन द्वारा जाना है।
  • तब भी आपको नजदीकि रेलवे स्टेशन नामपल्ली से टैक्सी या ऑटो रिक्शा में बैठ के पहुंच सकते है। 

इसके बारेमे भी जानिए – भेड़ाघाट धुआंधार जबलपुर की जानकारी

Nehru Zoological Park Hyderabad Telangana Map –

नेहरू जूलॉजिकल पार्क History in Hindi Video – 

Nehru Zoological Park Interesting Facts – 

  • नेहरू जूलॉजिकल पार्क फोटोग्राफी के लिये शुल्क देना पड़ता है ।
  • चिड़ियाघर के अंदर आपको वाहन ले जाना है ,तो शुल्क का भुगतान करना पड़ता है। 
  • पर्यटक अपने साथ खाने की चीजें और पानी ले जा सकता हैं।
  • चिड़ियाघर में टहलते समय आपके पास धूप का चश्मा,दूरबीन और छाता रखने से अच्छा रहता है। 
  • यह पार्क में पशु पक्षी और जानवरो को गौद दिए जाते है। 
  • उसके लिए आपको पशु के वार्षिक रखरखाव अर्धवार्षिक रखरखाव त्रैमासिक रखरखाव देने पड़ते है। 
  • आपको गोद लिए गए पशु बाड़े/जानवरों/पक्षियों के आप पास से देख ने की परमिशन देते है। 
  • जानवरों को सतना, छेड़ना, दुर्व्यवहार करना या खाना देना मना है।
  • टिकट खरीदने के लिए जल्दी जाना पड़ता है क्योकि छुट्टियों और सप्ताहांत में भीड़ होती है। 
  • भीड़ के समय में आपको ऑनलाइन टिकट नहीं मिलेगा।
  • पार्क में घूमने के लिए कम से कम 3-4 घंटे की आवश्यकता होती है। 

FAQ –

Q .क्या नेहरू जूलॉजिकल पार्क के अंदर कार की अनुमति है?

A .नहीं 

Q .मैं हैदराबाद में चिड़ियाघर पार्क कैसे जा सकता हूं?

A .किसी भी विहिकल से 

Q .नेहरू जूलॉजिकल पार्क में कितने जानवर हैं ?

A .1,550

Q .क्या मैं दिल्ली चिड़ियाघर के टिकट ऑनलाइन बुक कर सकता हूँ ?

A .हा 

Q .नेहरू प्राणी उद्यान खुला है या नहीं ?

A .नहीं 

Q .How much does it cost by auto from Aditya Park ameerpet to Nehru Zoological Park?

A .50 rupaye 

इसके बारेमे भी जानिए – कामाख्या देवी मंदिर का इतिहास

Conclusion –

आपको मेरा Nehru Zoological Park In Hindi बहुत अच्छी तरह से समज आया होगा। 

लेख के जरिये Nehru Zoological Parkholidays और About Nehru Zoological Park से सबंधीत  सम्पूर्ण जानकारी दी है।

अगर आपको किसी जगह के बारे में जानना है। तो कहै मेंट करके जरूर बता सकते है।

हमारे आर्टिकल को अपने दोस्तों के साथ शयेर जरूर करे। जय हिन्द।

Note –

आपके पास Nehru Zoological Park hours या Nehru Zoological Park car entry fee की कोई जानकारी हैं।

या दी गयी जानकारी मैं कुछ गलत लगे तो दिए गए सवालों के जवाब आपको पता है।

तो तुरंत हमें कमेंट और ईमेल मैं लिखे हम इसे अपडेट करते रहेंगे धन्यवाद 

1 .Nehru Zoological Park timings today ?

2 .Reopening date of Nehru Zoological Park

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *