Leaning Tower of Pisa History In Hindi

Leaning Tower of Pisa History In Hindi | पीसा की मीनार का इतिहास और रहस्य

Leaning Tower Of Pisa In Hindi में आपका स्वागत है। आज हम इटली देश के टस्कनी की राजधानी पीसा में स्थित पीसा की मीनार का इतिहास और रहस्य बताने वाले है। यह मीनार दुनिया  के सभी पर्यटकों को बीच मुख्य आकर्षण और एक मानव निर्मित रचना है। पीसा में स्थित लीनिंग टावर अपनी झुकी हुई मीनार की वजह से बहुत ही लोकप्रिय है। उन्हें एक फ्री स्टैंडिंग घंटी टावर  जाता है। इटली स्थित ‘लीनिंग टावर ऑफ पीसा’ दुनिया के सात अजूबों में से एक है। लीनिंग टावर इटली देश के टस्कनी प्रदेश की राजधानी पीसा में स्थित है।

पीसा की मीनार एक मानव निर्मित संरचना हैं जोकि दुनिया भर के पर्यटकों को बीच आकर्षण का केंद्र बनी हुई हैं। पीसा या टोरे पेंडेंटे डि पीसा के लीनिंग टावर को एक फ्री स्टैंडिंग घंटी टावर के रूप में जाना जाता है। पीसा स्थित लीनिंग टावर अपनी झुकी हुई मीनार के कारण लोकप्रिय है। यह टावर इटली देश की ऐसी प्रसिद्ध संरचना है। जो देश की आन, बान और शान का प्रतीक बना हुआ हैं। पीसा की झुकी हुई मीनार को आठ मंजिलों में निर्माण करवाया गया है। और उन्हें देखने के लिए यात्रिओ को टिकेट लेनी पड़ती है। तो चलिए बताते है की क्यों झुकी हुई है पीसा की मीनार, क्या है रहस्य।

Leaning Tower of Pisa Minar History In Hindi –

where is the leaning tower of pisa – इटली देश की पीसा मीनार यानि लीनिंग टॉवर देश की राष्ट्रीय विरासत है। यह दुनिया के सात अजूबों में से एक कही जाती है। पीसा की मीनार का निर्माण 1173 में शुरू हुआ था। उसका निर्माण कार्य तक़रीबन 200 साल चला एव 1399 में टावर तैयार हुआ था। यह मीनार बनाने का मुख्य कारन  यह था। की पीसा के स्थानीय लोग और इटली के फ़्लॉरेंस लोगो दोनों की दुश्मनी का यह परिणाम है।

उन दोनों के बिच कई युद्ध हुए थे। और पीसा निवासियों ने फ़्लोरेंस लोगों को नीचा दिखाने के लिए यह ईमारत का निर्माण करवाया था। यह मीनार को बनाने के समय जब 3 मंजिल बनी तब झुकाव होने लगा था। उसका निर्माण वास्तुशिल्पी बोनानो पीसानो ने की हुई है। उसी को गिरने से बचाने के लिए। कई प्रयास करते रहते है। क्योकि वह चाहते है। की यह मीनार हमेशा ऐसी ही बनी रहे।

7 wonders of the world
7 wonders of the world

Leaning Tower Of Pisa Architecture In Hindi –

पीसा की झुकी हुई मीनार वास्तुकला और संरचना देखे तो सिर्फ 3 मीटर गहरी पीसा की झुकी हुई यह मीनार को एक घने मिट्टी के मिश्रण पर निर्माण किया गया है। मिटटी यह मीनार को सीधा नहीं रख सकती है। इसीलिए दूसरी मंजिल की बनावट के समय ही यानि 1178 में मीनार झुकनी शुरू हुई थी। वह अपने झुकाव के कारन ही दुनिया भर में प्रसिध्द है। और पीसा के मीनार को मध्ययुगीन रोमनस्क्यू शैली में सेफद संगमरमर से बनाया है। एव गोलाकार बेल टॉवर के रूप में उन्हें निर्मित किया गया था।

फ्रीस्टैंडिंग घंटी टॉवर की उंचाई 57 मीटर और तीन मंजिले ईमारत 4 डिग्री के भयानक कोण से झुकी हुई है। पीसा की झुकी हुई मीनार की संरचना नार के उत्तर में 294 एव दक्षिण 296 सीढ़ियाँ बनाई गई है। निचा मंजिला ईमारत में 15 संगमरमर के मेहराब और दूसरे छह मंजिला में अलग अलग 30 और शीर्ष घंटी कक्ष में 16 देखने को मिलते है। यह मीनार कुल आठ मंजिलों में निर्मित है।

Visa Policy Of Italy For Indians In Hindi –

भारतीयों के लिए इटली की वीज़ा नीति दो प्रकार की होती है। Schengen Short Term एव C Visa एक नियमित यात्रा के लिए शेंगेन शॉर्ट टर्म और दूसरा में वीजा लॉन्ग टर्म वीजा या इटली राष्ट्रीय वीजा है। Short Term में आप 90 दिनों तक इटली देश में रहने की होती है। उसमे आप कितनी भी बार आ जा सकते है। यानि आप बहुत आसानी से गुम सकते है।

पीसा की मीनार घूमने का सबसे अच्छा समय –

  • अगर आप पीसा की मीनार घूमने जाने का सबसे अच्छा समय की तलाश में है।
  • तो अप्रैल से मई महीने में पीसा टावर गुमने का अच्छा समय होता है।
  • अप्रैल से मई के समय में यहाँ का मौसम बहुत ही अच्छा होता है।
  • क्योकि उस समय सर्दियों का मौसम चलता है।
  • और उसी कारन ही यह स्थान का मौसम बहुत सुहावना होता है।
  • क्रिसमस त्यौहार पर यहाँ आप गुमने जा सकते है।

Pisa Ki Jhuki Minar Ka Rahasya –

पीसा के मीनार के कई रहस्य जो लोग उस रहस्य को जानने के लिए उत्सुक रहते है। पीसा की मीनार झुकी हुई अवस्था में तक़रीबन 500 सालों से भी ज्यादा समय से ऐसी ही खडी है। वैज्ञानिकों की जानकारी है। की पीसा की मीनार के निचे एक अलग प्रकार की मिट्टी का प्रयोग किया गया है। यह मिटटी के कारन ही आज के समय में यह ईमारत झुक गई थी। और यह ईमारत को तक़रीबन 4 से 5 बड़े भूकंप भी उसका कुछ नहीं कर सके है।

यह मीनार भूकंप से होने वाले कम्पन्न से मिट्टी संभाल लेती है।  उसके कारन कई शक्तिशाली एव खतरनाक भूकंप भी उसका बाल बांका नहीं कर सकते है । पीसा की मीनार का रहस्य बहुत ही लाजवाब है। क्योकि पांच डिग्री के खतरनाक कोण में झुकने तक भी ईमारत को कोई भी नुकसान नहीं हुआ है। ढांचागत, भू-तकनीकी और भूकंपीय को अभ्यास करने वाले 16 इंजीनियरों का कहना है। की मीनार के खड़े रहने में उसकी नींव में मौजूद मिट्टी जिम्मेदार है।

leaning tower of pisa images
leaning tower of pisa images

Leaning Tower Of Pisa का प्रवेश शुल्क –

लीनिंग टॉवर ऑफ़ पीसा को देखने का प्रवेश शुल्क बताये तो पर्यटक को कुछ पैसे को देना होता है। हमारे भारत के यात्रिओ  प्रवेश के लिए 1200 रूपये देने होते है। तो दूसरे पर्यटक के लिए 15 यूरो का शुल्क रखा गया है।

पीसा की झुकी मीनार के खुलने और बंद होने का समय –

Leaning Tower Of Pisa Opening का लोकल समय सुबह 10 बजे से शाम 6 बजे तक खुली रहती है। पर्यटक हफ्ते के 6 दिन यह  मीनार में घूम सकते हैं। सोमवार के दिन पर्यटकों का आना यहाँ बंद रहता है। यानि सोमवार को लीनिंग टॉवर बंद रहता हैं।

Pisa Ki Minar Jhuki Hui Kyo Hai In Hindi –

सभी लोग यह जानना चाहते है , की पीसा की मीनार झुकी हुई क्यों है। तो आपको बतादे की लीनिंग टॉवर के निर्माण के समय यानि 1173 में ईमारत की नीव रखी गई थी। उसकी नीव में मुलायम मिटटी का उपयोग हुआ है। उसी वजह से यह ईमारत में तीन मंजिला बनने के बाद ही यह मीनार में झुकाव आने लगा था। और 1778 में तीन मंजिल बनने के बाद उसका काम बंध कर दिया था। मगर  बाद में उसका निर्माण दुबारा शुरू किया था।
पीसा की मीनार झुकी हुई क्यों है

How Old Is The Leaning Tower Of Pisa –

1173 में शुरू हुआ यह ईमारत का निर्माण में तक़रीबन 200 साल का समय लगा था। और उसका कारन यह था। की आधा होते ही उसका निर्माण बंध कर दिया गया था। और बाद में 1399 में उन्हें पूर्ण रूप से तैयार किया गया था। 1990 के समय तक पर्य्यतको को सिर्फ 294 सीढ़ी तक ही अनुमति दी गई थी। लेकिन 2001 की साल में दुनिया की सात अदभुत अजूबे को पर्यटकों के लिए पुनः खोल दिया गया।

पीसा की मीनार के आसपास में घूमने लायक पर्यटक स्थल –

अगर आप लीनिंग टावर ऑफ़ पीसा यानि पीसा की झुकी हुई मीनार को देखने जाते है।

तो आपको वहा के खूबसूरत जगहें को भी जरूर देखना चाहिए।

क्योकि घंटा मीनार के साथ पीसा शहर में बहुत आकर्षक और खूबसूरत पर्यटक स्थल मौजूद है।

तो चलिए उसके पर्यटन स्थलों के बारे में जानकारी देते हैं।

Santa Maria Della Spina Pisa In Hindi –

टावर ऑफ़ पीसा के नजदीक ही सांता मारिया डेला स्पाइना स्थित है। यह बहुत ही छोटे एव आकर्षक चर्चों में से एक कहा जाता है। सांता मारिया डेला की इमारत में यात्रिओ को प्रतिमाओं के झरोखे देखने को मिलते है। यात्रिओ के लिए यहाँ से जुडी जानकारी देने में यह स्थान सहायता करता है।

Leaning Tower of Pisa photo
Leaning Tower of Pisa photo

Cathedral Of Santa Maria Assunta Pisa –

कैथेड्रल ऑफ़ सेंटा मारिया असुनटा पीसा के प्रमुख दर्शनीय स्थलों में से एक है।

उसको बुश्चो नाम के प्रसिद्ध वास्तुकार ने बनाया था।

सफ़ेद संगमरमर से बनाया गया यह स्थान में सांता मारिया असुनटा का कैथेड्रल भी शामिल है।

Basilica Romanica Di San Piero A Grado Pisa –

बेसिलिका रोमैनिका डि सान पियो ए ग्रेडो पिसा एक बंदरगाह है।

जो 10 वी शताब्दी में निर्मित हुआ था।

यह स्थान यहां का मुख्य आकर्षक स्थल जिसपर सेंट पीटर 44 ईस्वी के समय में इटली में उतरे थे।

Baptistery Pisa Italy –

बैपटिसट्री पीसा एक प्रसिद्ध गुंबद और संगमरमर से बनाया गया है। उन्हें निकोला-पिसानो 1153 में बनाना शुरू किया और 1260 में उसका निर्माण कार्य पूरा हुआ था। बैपटिसट्री पश्चिम में बना हुआ ध्वनि के प्रदर्शन का केंद्र मानी जाती है। क्वाकार गुंबद देखने  यात्री का सपना होता है।

Leaning Tower of Pisa Campo Santo –

1278 में कैम्पो सेंटो पीसा का निर्माण हुआ था। ऐसा कहाजाता है।

की उसकी बनावट पीसा के लोगो को पवित्र मिट्टी में दफन करके के लिए किया।

यहाँ पर कई देशभक्तों के मकबरे यानि कब्रें मौजूद है। यह स्थान बहुत लोकप्रिय है।

Museo Dell’opera Del Duomo Pisa –

रंगीन संगमरमर से बना म्यूजियो डेल ओपेरा डेल ड्यूमो में शानदार दृश्य देखने को मिलते है। यह बहुत ही नयनरम्य चर्च है। चर्च में मौजूद कई मूर्तियाँ उतनी खूबसूरत दिखाई देती है। की ऐसा लगता है। की कलाकार ने अभी अभी बनाई हो। उसके चर्च में आपको जुलियस सीजर नाम के फेमस रोमन मूर्तिकला की मूर्ति भी देखने को मिलती है।

पीसा की मीनार फोटो
पीसा की मीनार फोटो

Santo Stefano Dei Cavalieri Pisa –

यह सेनटो स्टेफनो देई कैवेलियरी चर्च है। जो चर्च पीसा के प्रमुख आकर्षक स्थानों में शामिल है। यह स्थान का निर्माण 1565 में किया गया था। और यह चर्च को स्टीफन के योद्धाओं की याद में बनाया था। सेनटो स्टेफनो देई कैवेलियरी चर्च एक ऐतिहासिक धरोहर है। जो यात्रिओ को अपने और आकर्षित करता है। और तुर्की युद्ध से जुडी कहानिओ की जलक दिखाती हैं।

Leaning Tower of Pisa Palazzo Blue –

यह पीसा शहर का बहुत ही प्रसिद्ध संग्राहलय है। पलाज़ो ब्लू इटालियन कलाकारों की कई कला को प्रदर्शन करती दिखाई देती है। यह स्थान पर यात्रिको को 16 वी से 20 वी शताब्दी में बनी कई चीजों की जानकारी मिलती है। यहाँ पर्यटकों को पीसा के शुरूआती सिक्कों की प्रतिमा भी देखने को मिलती है।

Palazzo Dei Cavalier pisa –

पलाज़ो देई कैवेलियरी में ड़सवारी की प्रतियोगिता का आयोजन होता है। पीसा जाने वाले सभी पर्यटक यह स्थान को देखने जरूर जाते है। यह स्थान खासकर घोड़ों में ज्यादा रूचि रखने वाले यात्रिओ के लिए बहुत अच्छा साबित होता है। यह पलाज़ो देई कैवलियरी का नाम स्टीफन के घुड़सवारों के प्रशिक्षण पाठ्यक्रमों से रखा गया है।

पीसा की मीनार का इतिहास और रहस्य
पीसा की मीनार का इतिहास और रहस्य

Leaning Tower of Pisa Museo Nazionale (National Museum) –

यह म्यूज़ो नाज़ियोनेल एक राष्ट्रीय संग्रहालय है।

जो टस्कन के स्कूलों की मूर्ति और तस्वीरें मौजूद है।

यहाँ 12 वी से 15 वी शताब्दी के समय के कलाकारों से बनाये नमूने से संग्रहालय सजाया गया है।

Where To Stay In Pisa In Hindi –

आप अगर पीसा यात्रा के लिए जाते है। और आपको पीसा में कहाँ रुके का सवाल है। उसके निवारण के लिए हमने कुछ होटल के नाम दिए है। उस में आप बुकिंग कर सकते है यहाँ आपको लो-बजट से लेकर हाई बजट की लक्जरी होटल मिल जाएँगी। जिसमे रुक कर बहुत आसानी से पीसा की झुकी हुई मीनार पर्यटन स्थलों की यात्रा  कर सकते है।

  • Helvetia Hotel
  • Hotel Alessandro della Spina
  • Bologna Hotel Pisa
  • Hotel Pisa Tower

Pisa Italy Famous Food In Hindi –

किसी भी स्थान पर घूमने के लिए जाते है। तो आपको वहा का स्थानीय भोजन का लुप्त जरूर उठाना चाहिए। वैसे ही पीसा शहर में खाने के लिए प्रसिद्ध भोजन बताये। तो यहाँ शहर में इटालियन खाना बहुत फेमस एव प्रसिद्ध है।उसके साथ साथ आम पिसान के मांस से बने गुलगुले पीसा शहर का सबसे प्रसिद्ध भोजन कहा जाता है। और पिसा में मकई के आटे, बीन्स और केल से बनाया गया शूप को यात्री ज्यादा पसंद करते है।

How To Reach Pisa From India In Hindi –

अगर आप भारत से पीसा इटली कैसे पंहुचा जाये की तलाश में है। तो आपको बतादे की पीसा शहर का अपना हवाई अड्डा मौजूद है। यहाँ से आप लीनिंग टॉवर इटली पहुंच सकते है। पीसा शहर के हवाई अड्डा से राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय उड़ानों का संचालन किया जाता है। यहाँ पीसा इटली में Tuscany Galileo Galilei Airport प्रमुख हवाई अड्डा है। हमारे देश से इटली जाने के लिए एयर इंडिया से सीधी उड़ान भरी जाती हैं। जिससे आप रोम हवाई अड्डे पर ले जाती है। यहाँ से आप साधनों की सहायता से लीनिंग टॉवर पीसा पहुँच जाएंगे।

Leaning Tower Of Pisa location Map – पीसा की मीनार का नक्शा 

Leaning Tower of Pisa History In Hindi Video –

Interesting Facts on leaning tower of pisa

  • पीसा की मीनार जिस स्थान पर है उन्हें कोकैथेड्रल स्क्वायर कहा जाता है।
  • पीसा की मीनार को 1987 की साल में विश्व धरोहर स्थल घोषित किया था।
  • इटली की पीसा की मीनार में उत्तर में 294 एव दक्षिण में 296 सीढ़ियाँ हैं।
  • दूसरे विश्व युद्ध में जर्मनों ने टॉवर का प्रयोग तलाश के रूप में किया था।
  • टॉवर के शीर्ष पर बेल-चैंबर में सात घंटी बैठती हैं।
  • यह सात घंटी संगीत के प्रमुख पैमाने के प्रत्येक नोट के लिए एक घंटी है।

FAQ –

Q : पीसा की मीनार क्या है?

A : एक जुकी हुई ईमारत एव दुनिया के सात अजूबों में से एक है।

Q : पीसा की मीनार कहा है? 

A : पीसा की मीनार इटली देश के टस्कनी प्रदेश की राजधानी पीसा में स्थित है।

Q : पीसा की मीनार को किसने बनाया था?

A : पीसा की मीनार का निर्माण बोनानो पिसानो या घेरादो डी घेरादो ने एव मीनार का वास्तुकार बोनेब्रस था।

Q : लीनिंग टॉवर ऑफ़ पीसा की ऊंचाई क्या है?

A : पीसा के लीनिंग टावर की height 57 मीटर है।

Q : पीसा की मीनार कितनी झुकी है?

A : पीसा की मीनार 179 फुट ऊँची एव 5 डिग्री झुकी हुई है।

Q : पीसा की झुकी मीनार गिरती क्यों नहीं है?

A : मीनार की नींव में डाली गई नरम मिट्टी के कारन गिरती नहीं है।

Q : झुकी हुई मीनार किस देश में है?

A : पीसा की झुकी मीनार इटली देश में स्थित है।

Conclusion –

आपको मेरा Leaning Tower of Pisa History In Hindi बहुत अच्छी तरह से समज आया होगा। 

लेख के जरिये inside leaning tower of pisa और

leaning tower of pisa inside से सबंधीत  सम्पूर्ण जानकारी दी है।

अगर आपको किसी जगह के बारे में जानना है। तो कहै मेंट करके जरूर बता सकते है।

हमारे आर्टिकल को अपने दोस्तों के साथ शयेर जरूर करे। जय हिन्द।

Note –

आपके पास leaning tower of pisa drawing या leaning tower of pisa italy की कोई जानकारी हैं। 

या दी गयी जानकारी मैं कुछ गलत लगे / तो दिए गए सवालों के जवाब आपको पता है।

तो तुरंत हमें कमेंट और ईमेल मैं लिखे हम इसे अपडेट करते रहेंगे धन्यवाद। 

इसके बारेमे भी जानिए –

पिथौरागढ़ के प्रमुख पर्यटन स्थल की जानकरी

हम्पी का इतिहास, प्रसिद्ध मंदिर और घूमने की जानकारी

राजगढ़ किले का इतिहास और घूमने की जानकारी

भारत का बड़ा समुद्र तट मरीना बीच की जानकारी

शनिवार वाड़ा घूमने की जानकारी

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *