Raigad Fort History In Hindi

Raigad Fort History In Hindi | रायगढ़ किला का इतिहास और जानकारी

Raigad Fort महाराष्ट्र के रायगढ़ जिले में मौजूद है वह किला श्रृंखला पहाड़ीयो पर स्थित है।यह किला महाराष्ट्र का यात्रियों के लिए एक स्थल है। जो आप महाराष्ट्र के रायगढ़ किला को देखने के लिए पहोचते है और वह किले की जानकारी हम बताते है तो हमारा यह आर्तिकस पूरा पड़े। रायगढ़ किला का निर्माण चंद्रराव मोरे करवाया था। रायगढ़ किला समुद्र तल से 2700 फीट की ऊंचाई पर मौजूद है।

  किले का नाम   रायगढ़ किला
  राज्य   महाराष्ट्र
  शहर   रायगढ़
  निर्माणकर्ता   चंद्रराव मोरे
  निर्माणकाल  ई.स 1030

Table of Contents

History of Raigad Fort रायगढ़ किले का इतिहास

raigad killa को पहले रायरी नाम से पहेचाना जाता है।यह किले तक पोहचने के लिए 1737 सीढियां चढ़नी पड़ती हैं।छत्रपति शिवाजी ने 8 किले की संरचना करवाई थी इस में से एक यह किला भी शामिल है। छत्रपति शिवाजी ने वर्ष 1674 में इस किले को कब्जे में कर के वह किला को जिणोद्वार कर के फिर इस किले का नाम रायगढ़ किला रखा था। रायगढ़ का किला अपने कब्जे में लेकर उन्होंने निकट एक अन्य किला लिंगना की भी स्थापना करवाई थी।

Raigad Fort Images
Raigad Fort Images

रायगढ़ का किला को वर्ष 1689 में ज़ुल्फ़िकार खान ने अपने कब्जे में कर लिया था और मुगल शासक औरंगज़ेब नेरायगढ़ किला का नाम बदलकर इस्लामगढ़ रख दिया था। रायगढ़ का किला सन 1765 के समय ब्रिटिश ईस्ट इंडिया कंपनी द्वारा सशस्त्र अभियान के नाम से पहेचाना जाता था। और रायगढ़ का किला 9 मई 1818 को अंग्रेजो के कब्जे में हो गया। अब रायगढ़ का किला यात्रियों के लिए पहेचाना जाता है।

रायगढ़ किला का निर्माण

1030 इ के समय में रायगढ़ किला का निर्माण चंद्रराव मोरे ने करवाया था। fort raigad समुद्र तल से 2700 फीट की ऊंचाई पर मौजूद है। यह किला को पहले रायरी नाम से पहेचाना जाता है।

रायगढ़ किले में मुख्य कितने दरवाजे हे

यह रायगढ़ किले में मुख्य पांच दरवाजे है

  • महा दरवाजा
  • नागर्चना दरवाजा
  • पालखी दरवाजा
  • मेना दरवाजा
  • वाघ दरवाजा

    Raigad Fort Photo Gallery
    Raigad Fort Photo Gallery

रायगढ़ किले में क्या खास है

यह रायगढ़ किला चारो दिशाओ में विशाल चट्टानों से घिरा हुआ है। वह किले के मध्यम में एक विशाल तालाब है जिसे ‘बादामी तालाब’ के नाम से पहेचाना जाता है। मंदिर के अंदर पीने के लिए पानी के दो स्त्रोत है जिसे गंगा-यमुना नाम से पहेचाना जाता है। वह किले के दोरसे आप देखे तो जमींन की 360 डिग्री तक आप आसानी से देख सकते है। सैनिक यहां से दुश्मनों के आक्रमण का मोराचा संभाल ते थे। वह fort raigad अपने दुश्मनों से अपनी सेना और प्रजा के रक्षा के लिए बनवाय गया था।

रायगढ़ किले की संरचना 

वह किले में मुख्य एक दरवाज है जिसे महा दरवाजा के नाम से पहेचाना जाता है। रायगढ़ किले की बनावट बता करे तो वर्तमान समय में मौजूद शिवाजी की समाधि, राज्याभिषेक स्थल, शिव मंदिर, और रायगढ़ किले के अन्य स्थल खंडहर में तब्दील हो गए हैं। रानी का क्वार्टर रायगढ़ किले के खंडहर में आज भी मौजूद है। जहा छह कक्ष भी मौजूदा है। रायगढ़ किले का प्रथम महल लकड़ी का इस्तेमाल करके निर्माण कियागया है। प्रहरी, गढ़ और दरबार हॉल के खंडहर में मौजूद हैं।

वह यात्रिको के किये देखने लायक स्थान है। रायगढ़ किले के मध्यम में एक तालाब भी इसे ‘बादामी तालाब’ कहते हैं। रायगढ़ किले के कुछ करि बन गंगा सागर झील प्रसार होती है। रायगढ़ किले के कुछ क़रीबन एक प्रसिद्ध दीवार भी मौजूद है। जिसे हिरणी बुर्ज के नाम से पहेचाना जाता है और इसे दूसरे हिरकानी बस्ती के नाम से भी पहेचाना जाता है। रायगढ़ किले के अंदर मौजूद एक मेना दरवाजा माध्यमिक प्रवेश द्वार हैं जोकि शाही महिलाओं के लिए निजी प्रवेश द्वार के रूप में उपयोग किया जाता था।

यहाँ बने पालखी दरवाजा के ठीक सामने तीन काले कक्षों की एक पंक्ति है जोकि किले के अन्य भंडार के रूप में पहेचाने जाता हैं। रायगढ़ किले के तक्मक टोक बिंदु को भी देखा जा सकता हैं जहां से बंदियों को मौत के घाट उतार दिया जाता था।

Raigad Fort information रायगढ़ किले की जानकारी

आपको बतादे की रायगढ़ किला महाराष्ट्र के रायगढ़ जिले में मौजूद है वह किला श्रृंखला पहाड़ीयो पर स्थित है। रायगढ़ किला का निर्माण चंद्रराव मोरे ने 1030 के समय करवाया था। रायगढ़ किला समुद्र तल से 2700 फीट की ऊंचाई पर मौजूद है। रायगढ़ किला को पहले रायरी नाम से पहेचाना जाता है। shivaji maharaj ka kila ने वर्ष 1674 में इस किले को कब्जे में कर लिया था। उनकी capital of shivaji होने के कारन उन्होंने जीर्णोद्वार करवाय था। बाद में वर्ष 1689 में ज़ुल्फ़िकार खान के कब्जे में हो गया।

रायगढ़ किला की फोटो गैलरी
रायगढ़ किला की फोटो गैलरी

रायगढ़ किले की विशेषता क्या है

यह गढ़ किले का प्रथम महल लकड़ी का इस्तेमाल करके निर्माण कियागया है। प्रहरी, गढ़ और दरबार हॉल के खंडहर में मौजूद हैं। रायगढ़ किले के कुछ करिबन गंगा सागर झील प्रसार होती है। रायगढ़ किले के कुछ क़रीबन एक प्रसिद्ध दीवार भी मौजूद है। जिसे हिरणी बुर्ज के नाम से पहेचाना जाता है।

रायगढ़ किले के आसपास घूमने का स्थल Raigad Fort

  • Takmak Tok Point Raigad Fort
  • Jijamata Palace
  • Gangasagar Lake Raigad
  • Jagdishwar Temple Raigad Fort
  • Raigad Museum
  • Mahad Raigad
  • Raj Bhavan In Raigad
  • Queen’s Palace Raigad Fort
  • Madhe Ghat Waterfalls Pune
  • Diveagar Beach In Hindi

टकमक टोक बिंदु Raigad Fort

टकमक टोक बिंदु को पनिशमेंट पॉइंट के नाम से पहचाने जाता है वो 1200 फिट ऊंचाई पर मौजूद है। चटटान पर सह्यद्रि पर्वतो को सुंदर दृश्य दिखाए देता है। टकमक टोक बिंदु के कारन रायगढ़ का किला सरस देखने को लिए मिलता है। विश्वासगाती को वही स्थान पर लाके घाटी पर सजा दी जाती थी। वह स्थान यात्रिको के लिए सुंदर और खतरनाक भी है।

Raigad Fort Photos
Raigad Fort Photos

गंगा सागर झील :

रायगढ़ किले के कुछ करिबन सामने गंगा सागर झील प्रसार होती है। वह छत्रपति shivaji maharaj raigad के शासन के समय स्थापना करवाई थी। कहा जाता है की गंगा झील के जल से शिवाजी छत्रपति के राज्याभिषेक के समय यह नदी की स्थापना करवाई गई थी। वो चारो और से बर्फ से लिपटी हुवी चट्टान है। वह रानी की चैंबर भी नजदी है। वह यात्रियो को सुंदर करता है।

क्वीन पैलेस रायगढ़ :

वह देखने लायक रानी का महल भी है। इसे रानी वासा नाम से भी पहेचाना जाता है। गंगा सागर झील और कुशवात्रा तालोस के मध्यम में मौजूद हैं। क्वीन पैलेस में निजी कमोड और स्नान की सुविधा वाले छह कमरों बने हुए हैं। इस कमरे का इस्तमाल शिवाजी की शाही रानियों द्वारा किया जाता था। इस महेल का सारा निर्माण लकड़ी द्रारा किया गया था।

जीजा माता पैलेस Raigad Fort

जीजाबाई शिवाजी राजे भोसले की माता थी। रायगढ़ किले में जीजा बाई पैलेस भी मौजूद है। जीजाबाई को उच्च मूल्यों और आत्माओं की महिला के रूप में जाना जाता था। रायगढ़ किले में सुंदर देखने लायक जीजाबाई की समाधी भी मौजूद है। यह महल अपनी मूल बनावट को खो बैठा है क्योकि अंग्रेजो के शासन काल के समय खंडहर बन जाया था।

Raigad Fort
Raigad Fort

जगदीश्वर मंदिर Raigad Fort

जगदीश्वर मंदिर निर्माण शिवाजी महाराज द्वारा करवाया गया था। वो एक हिन्दू मंदिर है। वह महाद से कुछ 25 किमी की दुरी पर उत्तर दिशामे मौजूद है। shivaji maharaj raigad इस मंदिर में हर रोज आते थे। हिंदू मंदिर होने के कारन भी इस मंदिर पर गुंबद का होना मुगल वास्तुकला का प्रतिबिंब है।इस मंदिर में प्रथम देवता जगदीश्वर भगवान हैं। आप रायगढ़ किले की यात्रा करने के लिए सोचते है और आप वह जाये तो हम आप को बताते है की जगदीश्वर भगवान के भी दर्शन जरूर करे।

मधे घाट वॉटरफॉल :

रायगढ़ किले में एक मुख्य मधे घाट वॉटरफॉल भी स्थल मौजूद है। वह महाराष्ट्र के रायगढ़ जिले में मौजूद है। मधे घाट वॉटरफॉल से पुणे के मध्यम में कुछ 62 किमी दुरी पर हैं। इस में हरी -भरी वनस्पतियो, शक्तिशाली पहाड़ियाँ और सुंदर नदियों का समायोजन हैं। यात्रिको वह सुंदर मधे घाट वॉटरफॉल पर फिरने जाते है।

रायगढ़ किले धूमने जाने का सबसे अच्छा समय –

आप रायगढ़ किला घूमने आप साल में किसी भी समय में जा सकते है। रायगढ़ किले को धूमने जाने का सबसे अच्छा समय नवंबर से मार्च के दिने में अच्छा रहेता है।

रायगढ़ किला का फोटो
रायगढ़ किला का फोटो

Raigad Fort का प्रवेश शुल्क

यात्रिओ के लिए रायगढ़ किले में धूमने जाने के लिए भारत के नागरिको को 10 रूपये एक यक्ति को प्रवेश शुल्क होता है। और विदेशी नागरिको को 100 रुपये एक यक्ति को प्रवेश शुल्क होता है।

रायगढ़ किले के खुलने और बंद होने का समय

यात्रिओ के लिए रायगढ़ किला सुबह 8 बजे से शाम 6 बजे तक खुला रहता है।

रायगढ़ किले के नजदीकी रेस्टोरेंटो का खाना

पर्यटकों को रायगढ़ किले के नजदीकी रेस्टोरेंट खाना बहुत ही अच्छा और स्वादिस्ट है। वहा की स्थानीय रेस्टोरेंटो के अलावा शहर कई स्थानों पर आपको स्वादिस्ट भोजन खाने को मिल जायेंगे। वहा के रेस्टोरेंटो में प्रसिद्ध खाने में आपको पोहा,पाउ भाजी ,भेल पूरी ,वड़ा पाउ ,मिसल पाउ ,पिथला भकरी ,दाबेली चाइनीज और पूरन पोली का पर्यटक आनंद ले सकते है।

रायगढ़ क़िला के आसपास की रुकने की होटल

जो आप रायगढ़ किले को धूमने के लिए गए है और कहा रुके ऐसा सोच रहे हो तो हम बता देखी वह कई होटल है जहा आप लो – बजेट थी लेकर आप हाई – बजेट की रेज में होटल मिलेगी।

  • होटल कुणाल दर्दन
  • द वाटरफ्रेट शो लवासा
  • अंतरिक्ष रिट्रीट
  • हेरिटेज व्यू रिजॉट 
  • एकांत द रिट्रीट

    रायगढ़ किला इमेज
    रायगढ़ किला इमेज

Tourist Places In Maharashtra

How to reach Raigad Fort रायगढ़ किले  कैसे पहुंचे

रायगढ़ शहर का एक यात्रिको के किये अच्छा स्थान है।

यहां से किले तक जाने के लिए आप रायगढ़ मार्ग पर कैब ऑटो कराया देके ले जा सकते हैं और किले तक पहुँच सकते हैं।

फ्लाइट से रायगढ़ किला कैसे पहुंचे :

आप रायगढ़ जाने के लिए हवाई मार्ग भी जा सकते है। तो हम आप बता दें कि मुंबई का shivaji ka kila इंटरनेशनल एअरपोर्ट रायगढ़ किले के कुछ करीबन हवाई अड्डा है। वोह रायगढ़ किले से करीबन 140 किमी की दुरी पर मौजूद है।वहा से आप रायगढ़ मार्ग पर कैब ऑटो कराए देके ले जा सकते हैं और किले तक पहुँच सकते हैं।

ट्रेन से रायगढ़ किला कैसे पहुंचे :

जो आप रायगढ़ जाने के लिए रेल मार्ग का चुनाव किया हैं।

तो हम बता दें कि रायगढ़ शहर का रेल्वे स्टेशन “रायगढ़ जंक्शन रेलवे स्टेशन” हैं।

जोकि दिल्‍ली, बैंगलोर, मैसूर, जामनगर, चेन्‍नई आदि लाइन पर मौजूद है।

वो स्टेशन भारत के मुख्य शहरों से मिलता हैं।

सड़क मार्ग से रायगढ़ किला कैसे पहुंचे :

रायगढ़ किले सड़क मार्ग से हम जा सकते है। रायगढ़ किला सड़क मार्ग नजदीक के आसपास के सडकोसे अच्छी तरह से जुड़े हुवे है। इस लिये आप बस ध्वारा या फिर अन्य वाहन टैक्सी या कैब का इस्तेमाल करके आप fort raigad बिना दिक्कत से पहुँच सकते है।

रायगढ़ किला का इतिहास और जानकारी
रायगढ़ किला का इतिहास और जानकारी

Raigad Fort Map

Raigad Fort History In Hindi Video

FAQ

Q .रायगढ़ का किला कहा स्थित है?

रायगढ़ किला महाराष्ट्र के रायगढ़ जिले में मौजूद है वह किला श्रृंखला पहाड़ीयो पर स्थित है।

Q .रायगढ़ किला का निर्माण किसने करवाया था?

रायगढ़ किला का निर्माण चंद्रराव मोरे ने ई.स 1030 के समय करवाया था।

Q .रायगढ़ किले का जीर्णोद्वार किसने और कब करवाय था?

रायगढ़ किले का जीर्णोद्वार छत्रपति शिवाजी महाराज ने वर्ष 1656 में करवाय था।

Google Search

रायगढ़ किला इतिहास, रायगढ़ जिला का नक्शा, रायगड जिल्हा तालुके, रायगढ़ का इतिहास, रायगढ़ कहां है, रायगढ़ जिला के बारे में, रायगढ़ किस राज्य में है, रायगढ़ के राजा, Raigad fort Images, 10 lines on raigad fort, who built raigad fort, raigad fort essay in english, raigad fort history in marathi, raigad fort map, raigad fort information, raigad fort owners, raigad fort pdf, killedar of raigad fort

और पढ़े :-

Leave a Comment

Your email address will not be published.