Colosseum History In Hindi

Colosseum History In Hindi | कोलोसियम का इतिहास और उसके रोचक तथ्य

नमस्कार दोस्तों Colosseum In Hindi में आपका स्वागत है। आज हम रोम का कोलोसियम का इतिहास और उसके रोचक तथ्य बताने वाले है। कालीज़ीयम या कोलिज़ीयम इटली के रोम नगर का रोमन साम्राज्य का सबसे बड़ा एलिप्टिकल एंफीथियेटर है। रणनीतिक रूप से रोमन फोरम के पास स्थित देश के लोकप्रिय आकर्षणों में से एक है। यह हर साल 6 मिलियन से अधिक लोग देखने के लिए आते हैं। यह आकर्षण रोमन साम्राज्य का सबसे देखने योग्य स्थल है। आपको बता दें कि यह दुनिया के 7 अजूबों में से एक है।

कोलोसियम ने खूनी लड़ाई और जंगली जानवरों की लड़ाई देखी है। इस साइट पर जाल के दरवाजे और भूमिगत मार्ग अभी भी आसानी से सुलभ हैं क्योंकि अब मनोरंजन के लिए पूर्ण विकसित क्षेत्र हैं। दुनिया के सात अजूबों में से एक कालीज़ीयम वह जगह है। जहाँ पोप हर अच्छे शुक्रवार को उपस्थित होते हैं। और क्रॉस जुलूस के मार्ग का नेतृत्व करते हैं। उसका नाम फ्लेवियन एम्फीथिएटर से कोलोसियम में बदल दिया गया था। क्योंकि नीरो की मूर्ति डोमस ऑरिया के प्रवेश द्वार पर स्थित थी।

History Of Colosseum

कोलोसियम इतिहास – अंडाकार में बना कोलोसियम में लगभग 50000 पर्यटक समा सकता है। जो किसी भी संरचना के लिए बड़ी बात है। यह स्टेडियम में सिर्फ मनोरंजन के लिए योद्धाओं के खुनी युद्ध होते थे। उसके अलावा योद्धाओं की जानवरों के साथ लड़ाई होती थी। कोलोसियम में अंदाजित 10 लाख मनुष्य और 5 लाख पशु मारे गए है। पौराणिक कथाओं से संबंधित कई नाटक भी यहां आयोजित होते थे। कोलोसियम में साल में 2 भव्य आयोजन होते है। मध्यकाल में यह संरचना सार्वजानिक कार्य के लिए बंद किया था।

उसके बाद वह रहने, धार्मिक कामों, किले, और तीर्थ स्थल के लिए उपयोग किया गया था। वर्तमान में संरचना भूकंप और पत्थर चोरी के के कारन खंडहर बन चुकी है। मगर आज भी खंडहर को पर्यटकों के लिए सबसे अच्छी जगह है। आज भी कोलोसियम रोमन साम्राज्य के वैभव को उजागर करता है। कोलोसियम रोम में पर्यटकों द्वारा ज्यादा पसंद की जाने वाली जगहों में से एक है। कोलोसियम को यूनेस्को ने विश्व विरासत स्थलों की सूचि में शामिल किया है। हर गुड फ्राइडे (शुक्रवार) को पोप यहाँ मशाल जलाकर जुलूस निकालते हैं।

Colosseum Images
Colosseum Images

इसके बारेमे भी जानिए – Angkor Wat Temple History In Hindi Cambodia

Colosseum Architecture

कोलोसियम को 2000 साल पहले बनाया गया था। उसे फ्लेवियन राजवंश के रोमन सम्राट वेस्पासियन ने बनाया था। यह उनसे रोमन लोगों के लिए एक उपहार था। वह फ्लेवियन एम्फीथिएटर के रूप में जाना जाता था। उसका प्रयोग कई निष्पादन, विदेशी पशु व्यापार, लड़ाई के लिए करते थे। और झगड़े के मनोरंजन के लिए जनता के लिए खुला स्थान था। कालीज़ीयम उन सभी भाग्यशाली और दुर्भाग्यपूर्ण घटनाओं का प्रतीक है। collosseum बाहरी दीवार में अंडाकार आकार में है। उसकी लंबाई 188 मीटर, चौड़ाई 156 मीटर और ऊंचाई 52 मीटर है।

उसमें एक कुल्हाड़ी के साथ एक अण्डाकार आकृति है। और यह दो चरणों के आधार पर खड़ा है। उसके ऊपर मेहराबों की तीन मंजिलें हैं।  और चौथी मंजिला आयताकार खिड़कियों के साथ है। उसकी शुरुआत में प्रत्येक मंजिल पर 80 रोमन-संख्या वाले मेहराब थे। जो आधे स्तंभ स्तंभ से विभाजित है। अंदर मस्तूल के तीन स्तर हैं। शीर्ष स्तर पर 240 मस्तूल हैं। दुर्भाग्य से 1349 में आए भूकंप के कारण पूरा दक्षिण हिस्सा ढह गया था। उत्तर की ओर पायलटों और मेहराबों की मूल परतें बच गईं जो बाहरी दीवार के रूप में है।

Colosseum Photos
Colosseum Photos

Colosseum Entry details

कोलोसियम क्रिसमस 1 जनवरी और 2 जून को दोपहर 1:30 बजे को छोड़कर सभी दिनों में खुला होता है। सुबह 8:30 बजे से सूर्यास्त से पहले तक खुला होता है। उसके बंद होने का समय मौसम के आधार होता है। सर्दियों के समय colosium शाम 4:30 बजे बंद होता है। मगर गर्मियों में या अप्रैल से अगस्त तक शाम 7:15 बजे बंद होता है। उस समय कोई भी समय कोलोसियम का दौरा कर सकता है।

Colosseum Entry Fees

कालीज़ीयम में प्रवेश शुल्क की बात बताए तो प्रति व्यक्ति 12 यूरो रखा है। उसमें रोमन फोरम और पैलेटाइन हिल में प्रवेश शामिल है।  और यह 2 दिनों के लिए वैध है। यूरोपीय संघ के सदस्यों को (18-24 वर्ष) के लिए लागत 7.50 यूरो है। 18 साल से कम उम्र के बच्चों और वरिष्ठ नागरिकों के लिए कालीज़ीयम में प्रवेश निःशुल्क है। महीने के पहले रविवार को कालीज़ीयम में प्रवेश निःशुल्क है।

कोलोसियम की फोटो गैलरी
कोलोसियम की फोटो गैलरी

Tips for Visiting The Colosseum

  • यहाँ निर्देशित टूर खरीदकर लाइन से बचना चाहिए।
  • अगर आप स्किप द लाइन टूर खरीदते हैं तो कुछ समय बचा सकते हैं।
  • उसकी ऑनलाइन टिकट खरीदने से छूट मिल सकती है।
  • सुबह 8:30 बजे से पहले वहां पहुंच जाएं क्योकि कतार में खड़ा रहना नहीं पड़ता है।
  • कालीज़ीयम रात में सबसे अच्छा लगता है। उसको देखने का प्रयास करें।
  • यहां पहुंचने के लिए पर्यटकों को मेट्रो का उपयोग करना चाहिए।
  • यात्री रोमा पास खरीदते हैं तो उसको कोलोसियम, पैलेटाइन हिल और रोमन फोरम का डिस्काउंट मिल सकता है।
  • पर्यटकों को अपने सामान पर नजर रखनी चाहिए। क्योकि यहाँ भीड़भाड़ रहती है।

    कोलोसियम इमेज
    कोलोसियम इमेज

इसके बारेमे भी जानिए – Leaning Tower of Pisa History In Hindi

कालीज़ीयम में करने के लिए चीज़ें

  • यहाँ कालीज़ीयम में करने के लिए चीज़ें की बहुत लंबी लिस्ट है।
  • colloseum में करने के लिए सबसे अच्छी बात है भ्रमण करना है।
  • कई निर्देशित पर्यटन हैं जो आगंतुक ले सकते हैं।
  • मुख्य रूप से पैकेज हैं उस में कोलोसियम के बाहर लाइन को छोड़ना शामिल है।
  • एक थ्री-इन-वन टूर में द कोलोसियम, द रोमन फोरम और द पैलेटाइन हिल शामिल हैं।
  • कुछ आधे दिन और पूरे दिन के दौ हैं जो यात्री सुविधा के अनुसार ले सकते हैं।
  • आर्क ऑफ कॉन्स्टेंटाइन और विनकोली में बेसिलिका डि सैन पिएत्रो को देख सकते है।
  • उसके साथ बेसिलिका डि सैन क्लेमेंटे, पैलेटाइन हिल और रोमन फोरम को भी देख सकते है।

Places to Visit Around the Colosseum

  • Arch of Constantine
  • Palatine Hill
  • Roman Forum
  • Capitoline Museums
  • Santa Maria Maggiore
  • Basilica di Santa Maria Maggiore
  • San Giovanni in Laterano
  • Baths of Caracalla

    कोलोसियम का इतिहास और उसके रोचक तथ्य
    कोलोसियम का इतिहास और उसके रोचक तथ्य

Local Food & Where To Stay In Colosseum

कोलोसियम कई खाने के जोड़ों के साथ ठहरने के स्थानों से घिरा हुआ है। आपको यहां प्रामाणिक इतालवी और रोमन भोजन मिलता है। उसकी सूची समाप्त नहीं होती है। यहाँ वुडफायर पिज्जा से लेकर विदेशी पास्ता और नाश्ते के रेस्तरां, जिलेटो रेस्तरां, सलाद, बढ़िया भोजन, सैंडविच, तैयार की गई बीयर, बर्गर और फ्राइज़ तक आपको यह देखकर आश्चर्य होगा कि प्राचीन आकर्षण के आसपास क्या पा सकते हैं। उसके अलावा कई होटल, मोटल और रिसॉर्ट हैं जो कोलोसियम के करीब हैं। उसमें फाइव-स्टार सेवाओं के साथ आलीशान होटलों से लेकर साधारण होम-स्टे शामिल हैं।

How To Reach Colosseum

यात्री रोम के चारों ओर घूमकर ऐतिहासिक स्थलों का आनंद लेना पसंद करते हैं। तो लेकिन समय बचाने और अधिक देखने के लिए सही परिवहन सेवा का उपयोग करना जरुरी है। कालीज़ीयम पहुंचने के लिए परिवहन के कई विकल्प हैं। वहाँ पर्यटक बस, ट्रेन और कार से पहुंच सकते है। रविवार को स्क्वायर में व्यवहार्यता कार यातायात के लिए बंद है। बाइक किराए पर लेने वह सही समय है।

कोलोसियम का फोटो
कोलोसियम का फोटो

Colosseum Map कोलोसियम का लोकेशन

Colosseum History In Hindi Video

Interesting Facts Of Colosseum

  • कोलोसियम का निर्माण एक अंडाकार आकार में किया गया है।
  • कोलोसियम को फ्लेवियन एम्फीथिएटर भी कहा जाता है।
  • 2007 में कोलोसियम को दुनिया के 7 अजूबों में पसंद किया गया था।
  • कोलोसियम की दीवार की उंचाई 157 फीट और परिधि 1788 फीट है।
  • कोलोसियम का निर्माण 72 ईस्वी के बीच किया गया था।
  • यह संरचना को बनाने में पत्थरों और ईंटों के साथ 1.1 मिलियन टन कंक्रीट उपयोग हुआ था।
  • कोलोसियम में 80 से भी ज्यादा प्रवेश द्वार हैं
  • रोम के कोलोसियम में 50000 लोगों के बैठने की जगह है।
  • कोलोसियम के टिकट प्राचीन रोमनों के लिए मुफ्त थे।
  • एम्फीथिएटर 10 साल से भी कम समय लगा था।
  • यह दुनिया के सबसे प्रसिद्ध रोमन पर्यटक आकर्षणों में से एक है।
  • कोलोसियम के निर्माण के समय 200 बैलगाड़ियों का उपयोग किया गया था।
  • कोलोसियम आज भी रोमन कैथोलिक चर्च के साथ घनिष्ठ संबंध रखता है।
  • यह इटली में सबसे ज्यादा देखे जाने वाले स्मारकों में से एक है।
  • कोलोसियम को रोम के लोगों के लिए उपहार के रूप में बनाया था।
  • कोलोसियम का निर्माण फ़्लेवियन राजवंश के सम्राट वेस्पासियन ने किया था।

FAQ

Q .कोलोसियम कहा है?

कोलोसियम इटली देश के रोम नगर में स्थित है।

Q .कोलोसियम क्या है?

कोलोसियम या कोलिसियम इटली देश के रोम नगर के मध्य निर्मित रोमन साम्राज्य का सबसे विशाल एलिप्टिकल एंफ़ीथियेटर है।

Q .कोलोसियम का निर्माण कब हुआ था?

कोलोसियम का निर्माण 70-72 वीं ईस्वी के मध्य में शुरू हुआ था।

Q .कालीज़ीयम किसके लिए प्रसिद्ध है?

कालीज़ीयम रोमन साम्राज्य के समय में हुई ग्लैडीएटर लड़ाइयों के उद्गम स्थल के रूप में प्रसिद्ध है।

Q .कोलोसियम में कितने लोग मारे गए?

कोलोसियम में करीब 10 लाख से भी ज्यादा मनुष्य और 5 लाख पशु मारे गए थे। 

Conclusion

आपको मेरा Colosseum History In Hindi आर्टिकल बहुत अच्छी तरह से समज आया होगा। 

लेख के जरिये Colosseum tickets, Roman empire in hindi,

और Why was the colosseum built से सबंधीत सम्पूर्ण जानकारी दी है।

अगर आपको किसी जगह के बारे में जानना है। तो हमें कमेंट करके जरूर बता सकते है।

हमारे आर्टिकल को अपने दोस्तों के साथ शयेर जरूर करे। जय हिन्द।  

Note

आपके पास Rome history in hindi की जानकारी हैं। या दी गयी जानकारी मैं कुछ गलत लगे तो तुरंत हमें कमेंट और ईमेल मैं लिख हमे बताए हम अपडेट करते रहेंगे धन्यवाद। 

! साइट पर आने के लिए आपका धन्यवाद !

अगर आपको यह पोस्ट पसंद आया हो तो इसे अपने दोस्तों को जरूर शेयर करें !

Google Search

Colosseum meaning, Where is the colosseum located, Where is colosseum located, What is colosseum, Arena meaning, Ce meaning, Tuff meaning, Kolosseum kiit, Colosseo, Kolossus, Keralotsavam, Rome in hindi, Colosseum in rome, The colosseum at rome, The colosseum rome, Rome colosseum, The colosseum of rome, Who built the Colosseum, What is the Colosseum, Where was the Colosseum built, How was the Colosseum built

How long did it take to build the Colosseum, Colosseum rome tickets, Colosseum is located in which country, Hypogeum colosseum, How many people could the colosseum hold, Colosseum lego, When was the roman colosseum built, How old is the Colosseum, How big is the colosseum, Why is the colosseum broken, Colosseum Location, कोलोसियम की लोकेशन का मैप, रोम का इतिहास

इसके बारेमे भी जानिए –

Leave a Comment

Your email address will not be published.