Chokhi Dhani Jaipur Information In Hindi

Chokhi Dhani Jaipur Information In Hindi | चोखी ढाणी जयपुर घूमने की जानकारी

Chokhi Dhani In Hindi में आपका स्वागत है। आज हम चोखी ढाणी जयपुर घूमने की पूरी जानकारी बताने वाले है। पर्यटकों को राजस्थानी गाँव की संस्कृति का एहसास करवाता राजस्थान के जयपुर में chokhi dhani jaipur resort है। उसमे पर्यटकों को मूर्तिया, हस्तशिल्प, लोककथाओं, चित्रकारी और प्राचीन कलाकृतियों के साथ प्राचीन राजस्थान का वास्तविक चित्रण देखने को मिलता है। यह लक्जरी विरासत रिसॉर्ट टोंक रोड पर शहर के बाहरी विस्तार में स्थित है। 1989 में बनाया गया चोखी ढाणी का अर्थ अच्छा गाँव होता है।

चोखी ढाणी गाँव में आपको वैसे तो सभी लोक नृत्य देखने को मिलते है। लेकिन Chokhi Dhani Village का कालबेलिया नाच बहुत प्रसिद्ध है। दस एकड़ में फैला यह विस्तार में आपको नौका विहार, जादू के शो, भविष्यवाणी करने वाले तोते, घुड़सवारी, कठपुतली का खेल और कंचे का खेल देखने को मिलता है। जयपुर शहर में घूमने आने वाले सभी पर्यटक चोखी ढाणी भी जरूर देखने जाते है। अगर आप भी चोखी ढाणी की जानकरी चाहते है। तो हमारा पूरा आर्टिकल पढियेगा।

Chokhi Dhani Village Entry Fees

आपको अगर यह स्थान में प्रवेश करना है। तो वयस्कों के लिए चोखी ढाणी गाँव का प्रवेश शुल्क 700 से 1100 रूपये प्रति व्यक्ति रखा गया है। और बच्चों के लिए 2’5 “फीट से 3’5” फीट के बच्चे का 400 से 700 रूपये प्रति बच्चा रखा गया है।

चोखी ढाणी गाँव की टाइमिंग

अगर आपको चोखी ढाणी देखने जाना है तो Chokhi Dhani Timings की बात करे तो शाम 5:00 बजे से 11:00 बजे तक खुला रहता है। और सप्ताह के सभी दिन chokhi dhani resort jaipur खुला होता है।

Chokhi Dhani Images
Chokhi Dhani Images

Best time to visit Chokhi Dhani Village Jaipur

राजस्थान राज्य में ग्रीष्मकाल यानि गर्मियों के मौसम में यहाँ असहनीय रूप से गर्म और आर्द्र  वातावरण होता है। जिससे पपर्यटको के लिए अपनी यात्रा का आनंद लेना बेहद मुश्किल हो जाता है। उसी कारन से अक्टूबर से मार्च के बीच सर्दियों के मौसम के दौरान चोखी ढाणी की यात्रा की चोखी ढाणी जयपुर आने का सबसे अच्छा समय बताया जाता है। लेकिन अगर आप चाहे तो कोई भी समय में यात्रा कर सकते है। लेकिन थोड़ा मौसम गर्म होता है। उसकी वजह से तकलीफ होती है।

Location of Chokhi Dhani Jaipur

जयपुर के मुख्य शहर से तक़रीबन 20 किलोमीटर की दूरी पर ‘चोखी ढाणी’ नामक एक नकली गाँव बनाया गया है। चोखी ढाणी जयपुर का स्थान बताये तो चोखी ढाणी गाँव जयपुर छोर की ओर अजमेर-जयपुर राजमार्ग पर है। यह गांव शहर की हलचल से दूर है और पर्यटकों को शांत वातावरण और शांति प्रदान करता है।

चोखी ढाणी में करने और देखने के लिए चीजें

chokhi dhani photos
chokhi dhani photos

National Museum at Chokhi Dhani

राष्ट्रीय संग्रहालय चोखी ढाणी में कश्मीर, केरल और गुजरात से लेकर भारत के सभी उत्तर पूर्वी राज्यों की और राज्य की समृद्ध और जीवंत संस्कृतियों और परंपराओं को प्रदर्शित करता देखने को मिलता है। संग्रहालय की यात्रा की अत्यधिक अनुशंसा की जाती है क्योंकि यह आगंतुक के समय के हर सेकंड के योग्य माना जाता है।

Shopping at Chokhi Dhani

अगर आप चोखी ढाणी में खरीदारी करना चाहते है। तो यहाँ रंग-बिरंगे जूते, कुर्तियां, हस्तशिल्प, जैकेट और हाट से बहुत कुछ खरीद सकते हैं। यह स्थान को स्थानीय चीजों को बढ़ावा देने के लिए बनाया गया है। यहाँ मिलने वाली सभी चीजे स्थानीय कारीगरों को उनकी कला और कलाकृतियों को ही बेचा जाता है। यहाँ की कलाग्राम कलाकृतियां ज्यादा महंगी नहीं होती हैं।

Games Chokhi Dhani

यहाँ खेल में सबसे प्रसिद्ध ‘भूल भुलैया’ है जो एक जटिल भूलभुलैया मानी जाती है। जंगल सैर कृत्रिम जंगल के माध्यम से एक वन सफारी खेल है। और गुफा झरनी एक ट्रेक गेम है। उसमे पर्यटक कृत्रिम झरने के माध्यम से बनाई गई कृत्रिम गुफा के माध्यम से ट्रेक करते रहते हैं। उसके अलावा डार्ट खेल, तीरंदाजी और निशानेबाजी का खेल भी होता है ।

Shows and Performances Chokhi Dhani

यह स्थम्न स्थानीय लोगों के जरिये नृत्य प्रदर्शन के लिए प्रसिद्ध है। उसमे खानाबदोश लोगो के जरिये होने वाला कालबेलिया, घूमर और चरी नृत्य रूपों का प्रदर्शन है। उसके साथ बांस कलाबाजी, तेरह थाली नृत्य और पारंपरिक अग्नि अधिनियम जैसे लोक कलाकारों से साहसी कृत्यों को प्रदर्शित करता है। यह पर्यटकों को वाक और विस्मय में छोड़ देता है। उसके साथ दृश्य भ्रम, सम्मोहन और कठपुतली शो प्राचीन काल से राजस्थानी संस्कृति के लिए विशिष्ट कहानियां सुनाते हैं। राजस्थान के इतिहास, मेहंदी और मेंहदी कलाकारों को हथेलियों को रंगने के लिए दिखाती हैं।

chokhi dhani resort jaipur images
chokhi dhani resort jaipur images

Animal and Cart Rides Chokhi Dhani

यहाँ पर्यटक ऊंट, हाथी और घुड़सवारी की सवारी भी कर सकते है।

जानवरों की सवारी के साथ पर्यटक बैलगाड़ी की सवारी एव नाव की सवारी से भी आनंद ले सकते हैं।

जो जानवरो की सवारी पसंद नहीं करते उन्हें यह विकल्प अच्छा होता हैं।

Temples at Chokhi Dhani

पर्यटकों को चोखी ढाणी में एक कृत्रिम जलप्रपात के साथ वैष्णो देवी मंदिर की प्रतिकृति भी देखने को मिलती है। यहां देखने के लिए दूसरे मंदिर भी हैं। जिसमे बालाजी मंदिर, जंगल देवता मंदिर, गणेश मंदिर और तेजाजी मंदिर शामिल है। यह मंदिरों की विविधता राजस्थान के विविध लोगों की मान्यताओं की अनुसार झलक देती है।

Rath Khana

प्राचीन काल से राजपूत रॉयल्टी के जरिये उपयोग किए जाने वाले रथों को प्रदर्शित करता रथखाना है। पूरे राजस्थान राज्य में सभी शाही घरों में प्रयोग किए जाने वाले सभी रथ पर्यटकों के लिए एक अदभुत अनुभव देने के लिए काफी हैं।

Haldighati Battle \ Reliving the glorious Rajput past

राजस्थान की हल्दीघाटी की सबसे प्रसिद्ध लड़ाई में महाराणा प्रताप ने लड़ी थी। उसमे कुंभलगढ़ के मेवाड़ और आमेर के महाराजा मान सिंह प्रथम के नेतृत्व में मुगलों के बीच युद्ध हुआ था। कलाकारों ने उस भयंकर युद्ध का प्रदर्शन जहां राजपूत विजयी हुए, दर्शकों को उदासीन और भावनात्मक सवारी पर ले जाता देखने को मिलता है।

Image Gallery of Chokhi Dhani Jaipur, India
Image Gallery of Chokhi Dhani Jaipur, India

चोखी ढाणी में भोजन

अगर आप ताज़ी सामग्री से पकाए गए प्रामाणिक और स्थानीय भोजन का स्वाद चखना चाहते है। तो चोखी ढाणी में पत्तों की थाली पर भोजन परोसा जाता है। गोरबंद में आप खुली हवा में राजस्थानी भोजन का स्वाद ले सकते हैं। यहाँ बहु-व्यंजन थाली के साथ विशिष्ट प्रामाणिक राजस्थानी भोजन शामिल है। आप यहाँ राजाओं और रानियों की तरह शाही भोजन ले सकते हैं।

Royal Fine Dining –

यह रेस्तरां समृद्ध माहौल और अद्भुत आतिथ्य प्रदर्शित करता है। यहां भोजन करना शाब्दिक अर्थों में एक शाही अनुभव होता है। क्योंकि भोजन चांदी की प्लेटों में परोसा जाता है। मेहमानों को एक विशाल मेनू से अपने पसंद चुनने को मिलते हैं। अगर किसी को पैसे खर्च करने में कोई आपत्ति नहीं है। वही रॉयल फाइन डाइनिंग का मजा ले सकता है।

Choupal

चौपाल एक बहु-व्यंजन रेस्तरां और रिज़ॉर्ट का एक हाउस भोजनालय है। उसमे बुफे के साथ-साथ ला कार्टे के रूप में भोजन परोसता जाता है। चौपाल का अर्थ है ‘हब’ या गाँव में एक सभा स्थल जहाँ लोग भोजन या नाश्ते पर मीटिंग के लिए शामिल होते हैं। यह होटल पारंपरिक चौपाल का अनुभव देता है। जहां पर्यटक बैठते, आराम करते और भोजन भी करते हैं।

Aragosta Restaurant

एक बहु-व्यंजन रेस्तरां के रूप में अरागोस्टा है। यह चोखी ढाणी में सबसे बड़ा रेस्तरां और रिसॉर्ट माना जाता है। अरागोस्टा का अर्थ कृपया खाओ होता है। यहां का खाना लाजवाब होता है। यह स्थान के मेन्यू में उत्तर भारतीय, चीनी, कॉन्टिनेंटल और इटैलियन तक के सभी व्यंजन मिलते हैं।

चोखी ढाणी की फोटो गैलरी
चोखी ढाणी की फोटो गैलरी

Bindola Restaurant

एक बहु-व्यंजन रेस्तरां को गोलाकार आकार में बनाया गया है। उसकी बनावट में जटिल लकड़ी की नक्काशी के साथ छत पर लालटेन और रेस्तरां की दीवारें राजस्थानी मंदाना चित्रों के साथ बनाई हैं। यह रेस्तरां सिर्फ भोजन के लिए नहीं लेकिन कला के माध्यम से और  स्थानीय विरासत के लिए भी प्रसिद्ध है।

Kesar Kyari Barbeque

शाकाहारी और मांसाहारी दोनों तरह का खाना परोसती यह आउटडोर रेस्तरां है। जिसमे स्वादिष्ट भोजन मिलते है। बारबेक्यू प्रसाद उनके कुछ बेहतरीन व्यंजन होते हैं। वह पर्यटक के पास ही खड़े रहते हुए उसकी मांगों को पूरा करते हैं।

Sangri

सांगरी का भोजन सभी स्थानीय भोजन में सबसे अच्छा होता है।

यहाँ भोजन एक पत्ते की थाली पर परोसा जाता है।

जो मनुहार की परंपरा के अनुरूप होता है।

भोजन मनोरम और अच्छी तरह से बनाया जाता है।

यहाँ पर्यटक थाली भरी हुई छोड़ देगा लेकिन फिर भी अधिक खाना चाहता है।

Chaupad Jeeman Ghar

एक सिट डाउन रेस्तरां यहाँ बैठने की व्यवस्था ‘चौपड़’ नामक पुराने खेल के आधार पर की जाती है। यह खेल शाही घरों में खेला जाता था। खेल का आधुनिक नाम लूडो है। उसमे चार सीधे रास्ते एक केंद्रीय घर की ओर ले जाते हैं। चौपड़ जीवन घर में परोसा जाने वाला भोजन विशिष्ट राजस्थानी थाली है। यहाँ मेहमानों को रॉयल्टी माना जाता है।

चोखी ढाणी जयपुर घूमने की जानकारी
चोखी ढाणी जयपुर घूमने की जानकारी

Gorbandh

गोरबंध में खुली हवा में भोजन की व्यवस्था होती है। यहाँ राजस्थानी व्यंजन परोसे जाते हैं। विविध प्रकार के स्नैक्स और ताजा घी में पका हुआ भोजन न केवल घ्राण इंद्रियों और स्वाद कलियों को गुदगुदी करता है। बल्कि अधिक खाने के प्रलोभन को भी बढ़ाता है। गोरबंध में परोसी जाने वाली दाल बाटी चूरमा और मिस्सी रोटी के लिए प्रसिद्ध है।

चोखी ढाणी जयपुर कैसे पहुंचें

यह स्थान जयपुर – अजमेर के राजमार्ग पर शहर से बाहरी विस्तार में स्थित होने के कारण, यहां पहुंचने के लिए परिवहन का सबसे अच्छा साधन सड़क मार्ग है। सुविधाजनक और किफायती दोनों प्रकार के परिवहन विकल्प उपलब्ध हैं। जयपुर में शीर्ष कार रेंटल कंपनियों से एक निजी कैब किराए पर लेना एक आरामदायक और परेशानी मुक्त सवारी का आनंद लेने का सबसे अच्छा विकल्प है।

रेलवे से चोखी ढाणी तक कैसे पहुँचे

अगर आप चोखी ढाणी की यात्रा ट्रेन से करना चाहते हैं।

तो जयपुर जंक्शन रेलवे स्टेशन चोखी ढाणी जयपुर का निकटतम रेलवे स्टेशन है।

जो तक़रीबन 20 किलोमीटर दूर है। वहाँ जाने के लिए आप कैब या टैक्सी की सहायता ले सकते है।

जयपुर रेलवे स्टेशन हमारे देश के सभी शहरो से जुड़ा हुआ है।

चोखी ढाणी तस्वीरें
चोखी ढाणी तस्वीरें

सड़क मार्ग से चोखी ढाणी कैसे पहुँचे

यहाँ राजस्थान सड़क परिवहन की बस से जा सकते हैं।

आप जयपुर बस स्टेशन तक पहुँच सकते हैं।

जो जवाहर नगर मार्ग पर स्थित है।

आपको 20 किलोमीटर दूर चोखी ढाणी जाने के लिए कैब या ऑटो रिक्शा की सहायता ले सकते है।

जयपुर से चोखी ढाणी की कैब सेवाएं राउंड ट्रिप का 1200 रूपये लेती है।

फ्लाइट से चोखी ढाणी कैसे पहुँचे

चोखी ढाणी का निकटतम हवाई अड्डा जयपुर अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा है।

जो चोखी ढाणी से तक़रीबन 12 किलोमीटर दूर स्थित है।

वहाँ से पर्यटक कैब या ऑटो रिक्शा की सहायता ले सकते है।

बहुत आसानी से पहुंच सकते है। उसका दूसरा सांगानेर हवाई अड्डा देश

के प्रमुख शहरों से नियमित रूप से चलने वाली कई एयरलाइनों से जुड़ा हुआ है।

Chokhi Dhani Location चोखी ढाणी की लोकेशन का मैप

Chokhi Dhani Jaipur Information In Hindi Video

Interesting Facts

  • चोखी ढाणी की वास्तुकला को पारंपरिक राजस्थानी डिजाइन से बनाया है।
  • लक्जरी होटल के साथ एक गांव की शांति का एहसास करवाता है।
  • मेवाड़, रेगिस्तान और जैसलमेर के गाँव की झोपड़ियाँ चोखी ढाणी में मौजूद हैं।
  • चोखी ढाणी के आकर्षणों में वैष्णो देवी मंदिर, मानव निर्मित झरना और तेजाजी मंदिर है।
  • यह स्थान पर्यटकों को सही मायने में राजस्थानी अनुभव प्रदान करती हैं।
  • यहाँ 5 स्टार होटल से भारत और दुनिया भर के मेहमानों की सेवा होती है ।
  • चोखी ढाणी में राजस्थानी संस्कृति और कला के दर्शन होते है ।

FAQ

Q : चोखी ढाणी कहा है?

Ans : राजस्थान के जयपुर शहर के बहार चोखी ढाणी एक मानव निर्मित गांव है।

Q : चोखी ढाणी टिकट की कीमत क्या है?

Ans : चोकी ढाणी प्रवेश शुल्क लगभग रु। 500 प्रति वयस्क हैं।

Q : क्या चोखी ढाणी देखने लायक है?

Ans : हा राजस्थान की संस्कृति और कला के लिए जरूर देखने चाहिए।

Q : चोखी ढाणी में हमें क्या करना चाहिए?

Ans : लोक नृत्य, संगीत, राजस्थानी व्यंजन, कठपुतली, जादू शो,

जानवरों की सवारी, हल्दीघाटी युद्ध और खरीदारी देखना चाहिए।

Q : चोखी ढाणी जयपुर का समय क्या है?

Ans : शाम 5 बजे से रात 11 बजे तक

Q : क्या चोखी ढाणी जयपुर में खाना फ्री है?

Ans : चोखी ढाणी जयपुर में खाना फ्री नहीं है।

Conclusion

आपको मेरा Chokhi Dhani Jaipur Information In Hindi बहुत अच्छी तरह से समज आया होगा। 

लेख के जरिये chokhi dhani jaipur menu और

chokhi dhani jaipur distance से सबंधीत  सम्पूर्ण जानकारी दी है।

अगर आपको किसी जगह के बारे में जानना है। तो कहै मेंट करके जरूर बता सकते है।

हमारे आर्टिकल को अपने दोस्तों के साथ शयेर जरूर करे। जय हिन्द।

Note

आपके पास chokhi dhani jaipur address या chokhi dhani jaipur contact number की कोई जानकारी हैं। 

या दी गयी जानकारी मैं कुछ गलत लगे / तो दिए गए सवालों के जवाब आपको पता है।

तो तुरंत हमें कमेंट और ईमेल मैं लिखे हम इसे अपडेट करते रहेंगे धन्यवाद। 

इसके बारेमे भी जानिए –

होयसलेश्वर मंदिर का इतिहास

कलिंजर किले का इतिहास और घूमने की जानकारी

अंकोरवाट विश्व का सबसे बड़ा हिन्दू मंदिर

हरिहर किले का इतिहास और घूमने की जानकारी

वारंगल किले का इतिहास और घूमने की जानकारी

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *