Chand Baori History In Hindi

Chand Baori History In Hindi | आभानेरी चांद बावड़ी का इतिहास और जानकारी

नमस्कार दोस्तों Chand Baori In Hindi में आपका स्वागत है। आज हम राजस्थान के आभानेरी चांद बावड़ी का इतिहास और जानकारी बताने वाले है। 10 वीं शताब्दी के स्मारकों से संबंधित चांद बावड़ी आभानेरी गांव का प्रमुख पर्यटक आकर्षण स्थल है। राजस्थानी स्थापत्य विशेषज्ञता और प्रतिभा का प्रदर्शन करती चांद बावड़ी तीन तरफ सीढ़ियों के साथ पानी की ओर जाता है। बावड़ी 13 मंजिला से ज्यादा गहरी है और 3500 से अधिक सीढ़ियों से सुशोभित है। 1000 वर्ष से ज्यादा पुराने होने के बाद भी अच्छी स्थिति में बनी हुई है।

आज वह उपयोग में नहीं है। मगर अभी भी सुंदर वास्तुकला, अद्भुत गणितीय सटीकता और बीते युगों की प्राचीन भारतीय मूर्तिकला शैली को प्रदर्शित करती है। दुनिया का यह सबसे गहरा कुआँ अपनी सुंदरता एव भव्यता के लिए पर्यटको को आकर्षित करता है। अभनेरी गांव राजस्थान की राजधानी जयपुर के पास स्थित है। आपको बतादे की यहां कई फिल्मों की शूटिंग भी हुई है, उसमे भूल भुलैया, द फॉल, द डार्क नाइट राइज़ और बेस्ट एक्सोटिक होटल मैरीगोल्ड फिल्म के नाम शामिल है।

Best Time To Visit Chand Baori Rajasthan

चांद बावड़ी घूमने का सबसे अच्छा समय बताए तो सर्दियो के मौसम में यानि नवंबर से मार्च महीने के दिनों में चांद बावड़ी और राजस्थान के पर्यटक स्थल की यात्रा करने के लिए सबसे अच्छा समय होता है। आपको बतादे की यहाँ रात के दौरान 8 डिग्री और 32 डिग्री सेल्यियस का तापमान होता है। यहां गर्मियो के मौसम में वातावरण बेहद गर्म होता हैं। उसके कारन राजस्थान के दर्शनीय स्थलों की यात्रा करने में थोड़ी दिकत्ते आती रहती है।

Address – चांद बावड़ी, हर्षत माता मंदिर के पास , आभानेरी, बांदीकुई, राजस्थान 303313

Chand Baori Images
Chand Baori Images

इसके बारेमे भी पढ़िए – नाडाबेट मंदिर का इतिहास और जानकारी

Chand Baori Timings

चाँद बावड़ी देखने का समय बताए तो वह खुलने का समय सुबह 7:30 बजे से शाम 5:00 बजे तक है।

Chand Baori entry fees

चाँद बावड़ी प्रवेश शुल्क बताए तो भारतीय पर्यटक के लिए 50 रुपए और विदेशी पर्यटक के लिए 200 रुपए देना होता है।

चाँद बावड़ी जोधपुर राजस्थान
चाँद बावड़ी जोधपुर राजस्थान

Chand Baori History In Hindi

चाँद बावड़ी आभानेरी का इतिहास बताए तो उसको महा राजा चंद ने 8वीं और 9वीं शताब्दी के समय में अपनी माता को समर्पित बनवाई थी। वह बावड़ी खुशी और खुशी की देवी हर्षत माता को समर्पित थी। यह बावड़ी बनवाने का मुख्य मकसद स्थानीय लोगों को पूरे वर्ष स्वच्छ जल मिलने के लिए था। यहाँ कई वर्षों तक आसपास के कई क्षेत्रों के लिए भरोसेमंद जल स्रोत होने के उद्देश्य को पूरा किया था। चाँद बावड़ी की भव्य संरचना को आभानेरी गांव के लोगों के लिए एक सभा स्थल है। स्थानीय लोग कुएं के चारों ओर बैठते हैं।

गर्मी के दिनों में सीढ़ियों के नीचले हिस्से ठंडे हो जाते है और उस स्टेप वेल का तापमान 7 डिग्री तक ठंडा होता है। हिंदू पौराणिक कथाओं के मुताबिक बावड़ी का पानी स्वर्ग और पृथ्वी के बीच की सीमा बनाता है। यह ध्यान, प्रार्थना, और धार्मिक स्नान के लिए एक स्थान बन गया था। आप अगर यहाँ जाना चाहते है। तो हर्षत माता मंदिर भी दर्शन करना जरुरी है। क्योकि स्थानीय लोग बाउरी को प्रेतवाधित मानते हैं। उसका मानना है की बावडी एक रात में बनाया गया था। वह व्यावहारिक रूप से असंभव है। उसको बनाने का काम एक जिन्न को दिया गया था।

Chand Bawdi Photos
Chand Bawdi Photos

इसके बारेमे भी पढ़िए – लक्ष्मी नरसिम्हा मंदिर का इतिहास और जानकारी

Chand Baori Architecture

चांद बाउरी की वास्तुकला देखे तो राजस्थान के अत्यंत शुष्क विस्तार में उस स्टेपवेल ने बहुत ही अच्छी तरह से काम किया है। चाँद बावड़ी भारतीय आर्किटेक्ट की शानदार वास्तुकला के लिए प्रसिद्ध है। चाँद बावड़ी 13 मंजिल नीचे और 3500 सीढ़ियों के साथ ज्यामितीय परिशुद्धता को प्रदर्शित करती है। उसमे तक़रीबन 100 फीट गहरा स्टेपवेल निर्मित है। उस सभी का माप प्रत्येक तरफ 35 मीटर है। मान्यता के मुताबिक सीढ़ियों का निचला हिस्सा 8 वीं 9 वीं शताब्दी में बना था। मगर उसका ऊपरी हिस्सा 18 वीं शताब्दी में मुगल साम्राज्य काल के समय पूरा हुआ था।

चाँद बावड़ी की फोटो गैलरी
चाँद बावड़ी की फोटो गैलरी

Harshat Mata Temple

हर्षत माता मंदिर स्टेप वेल्स के नजदीक में स्थित एक प्रसिद्ध हिन्दू मंदिर हैं। वह पर्यटकों को बेहद आकर्षित करता है। यह पवित्र हिन्दू मंदिर स्थानीय देवी हर्षत माता को समर्पित है। आपको बता दें कि पुराने समय में मंदिर को इस्लामिक राजाओ ने नष्ट कर दिया गया था। वर्तमान समय में यहां सिर्फ खंडर ही बचें हुए हैं। यहाँ आप आंगन में स्तंभों और दीवारों पर अदभुद मूर्तियों की नक्काशी को देख सकते हैं। मंदिर और उसके नजदीक की प्राकृतिक सुंदरता देखकर पर्यटक मंत्रमुग्ध होते है। अगर आप भी यहाँ घूमने जाते है, तो हर्षत माता मंदिर के दर्शन जरूर करेने चाहिए।

राजस्थान की प्रसिद्ध बावड़ी
राजस्थान की प्रसिद्ध बावड़ी

इसके बारेमे भी पढ़िए – जोधपुर के उम्मेद भवन पैलेस का इतिहास

Chand Baori Haunted Story

चाँद बावड़ी की प्रसिद्ध कथा के मुताबिक ठाकुर जयसिंह घोड़े पर सवार होकर जोधपुर से रणसी गांव की ओर देखने निकले थे। राह में सेवकों के घोड़े काफी आगे निकल गये और ठाकुर जयसिंह पीछे छूट गए थे। राजा को प्यास लगी तो तालाब को देखकर ठाकुर जयसिंह ने घोड़े को रोका और घोड़े को पानी पिलाने के लिए तालाब के पास पहुंचे थे। घोड़ा पानी पीने के लिए आगे बढ़ा तो जयसिंह को तालाब के किनारे एक आकृति दिखाई दी थी। उस ने कहा की मैं भूत हूँ। किसी शाप के कारण तालाब को छू नहीं सकता था। मुझे भी जोर से प्यास लगी है पानी पिलाइये। ठाकुर जयसिंह ने उस आत्मा को पानी पिला दिया था।

ठाकुर की दया को देखकर भूत ने कहा की आप जो आदेश देंगे उसे मैं पूरा करूँगा। ठाकुर जयसिंह ने कहा मेरे लिए एक गढ़, महल तथा पानी की बावड़ी के साथ एक सुन्दर शहर तुम्हें बनाना है। भूत ने कहा मुझे आपका आदेश स्वीकार है मगर मैं यह कार्य प्रत्यक्ष रूप से नहीं करूंगा। आप दिन भर जो भी निर्माण कराएंगे वह रात में सौ गुना ज्यादा करदूंगा। और वह रहस्य को किसी को नहीं बताएंगे। जयसिंह की पत्नी ने बावड़ी के विस्तार का रहस्य पूछा तो उन्हें बताने से इन्कार कर दिया था। मगर रानी रूठ गई और ठाकुर ने उसे सारा रहस्य बता दिया। तो निर्माण कार्य रूक गया था।

चांद बावड़ी का फोटो
चांद बावड़ी का फोटो

इसके बारेमे भी पढ़िए – दुनिया की सबसे ऊँची ईमारत बुर्ज खलीफा की जानकारी

Best Places To Visit Near Chand Baori

  • Harshat Mata Temple (हर्षत माता मंदिर)
  • Madhogad Fort (माधोगढ़ किला)
  • Mehndipur Balaji Temple (मेहंदीपुर बालाजी मंदिर)
  • Bhandarej (भंडारेज)
  • Jhajhirampura (झझिरमपुरा)
  • Lotwara (लोटवारा)
  • Bandukui (बांदीकुई)

How To Reach Chand Baori Jodhpur

जयपुर शहर से 95 किमी दूर स्थित आभानेरी गांव पहुंचना बहुत आसान है। आभानेरी पहुंचने का सबसे अच्छा तरीका दिल्ली या जयपुर से सड़क मार्ग से कार लेना है। क्योंकि वह शहर का निकटतम हवाई अड्डा है। आप आभानेरी जाने वाली बसों या ट्रेनों का विकल्प भी चुन सकते हैं। राजस्थान के सबसे पुराने और सबसे आकर्षक स्थलों में से एक, चांद बावड़ी भूल भुलैय्या, द फॉल, द डार्क नाइट राइजेज और बेस्ट एक्सोटिक होटल मैरीगोल्ड सहित कई फिल्मों के लिए एक लोकप्रिय स्थान है।

आभानेरी चांद बावड़ी का इतिहास
आभानेरी चांद बावड़ी का इतिहास

इसके बारेमे भी पढ़िए – तमिलनाडु के राष्ट्रीय उद्यान और पक्षी अभयारण्य

Chand Baori Abhaneri Map चाँद बावड़ी आभानेरी का लोकेशन

Chand Baori Abhaneri Information In Hindi Video

Interesting Facts

  • चाँद बावड़ी राजस्थान के अभनेरी गाँव का एक प्रमुख पर्यटक आकर्षण स्थल है। 
  • अभनेरी गांव राजस्थान की राजधानी जयपुर के पास स्थित है। 
  • चाँद बाउरी बेहद अदभुद स्टेप वेल में तीन तरफ सीढ़ियां हैं।
  • विस्व का यह सबसे आकर्षक स्टेपवेल पर्यटकों को अपनी तरफ आकर्षित करता है।
  • राजा चाँद ने 8 वीं और 9 वीं शताब्दी के दौरान निर्मित करवाया था।
  • चांद बावड़ी की 3500 सीढ़ीयों के साथ भूलभुलैया में कई रहस्य छिपे हुए है। 
  • चाँद बावड़ी भारतीय आर्किटेक्ट की शानदार वास्तुकला विशेषज्ञता के लिए जाना जाता है।

FAQ

Q .प्रसिद्ध चाँद बावड़ी कहाँ स्थित है?

चांद बावड़ी बावड़ी राजस्थान में दौसा जिले के बांदीकुई के पास आभानेरी गांव में स्थित है। 

Q .विश्व की सबसे गहरी बावड़ी कौन सी है?

चाँद बावड़ी सबसे गहरी बावड़ी है। 

Q .आभानेरी क्यों प्रसिद्ध है?

आभानेरी चाँद बावड़ी और हर्षत माता मंदिर के लिए प्रसिद्ध है। 

Q .चांद बावड़ी का निर्माण कब हुआ? 

चांद बावड़ी का निर्माण राजा चंद्र ने आठवीं और नोवी शताब्दी में करवाया था। 

Q .नदी के किनारे कौन सी बावड़ी स्थित है?

रानी-की-वाव

Q .चाँद बावड़ी जोधपुर का निर्माण किसने करवाया?

राजा चंद्र

Conclusion

आपको मेरा लेख Chand Baori History In Hindi बहुत अच्छी तरह से समज आया होगा। 

लेख के जरिये Chand Bawdi kaha hai, Chand Baori story

और Chand Baori stepwell से सबंधीत सम्पूर्ण जानकारी दी है।

अगर आपको किसी जगह के बारे में जानना है। तो हमें कमेंट करके जरूर बता सकते है।

हमारे आर्टिकल को अपने दोस्तों के साथ शयेर जरूर करे। जय हिन्द।  

Note

आपके पास Who built chand baori की जानकारी हैं। या दी गयी जानकारी मैं कुछ गलत लगे तो तुरंत हमें कमेंट और ईमेल मैं लिख हमे बताए हम अपडेट करते रहेंगे धन्यवाद। 

! साइट पर आने के लिए आपका धन्यवाद !

अगर आपको यह पोस्ट पसंद आया हो तो इसे अपने दोस्तों को जरूर शेयर करें !

Google Search

चांद बावड़ी कौन से जिले में है, चाँद बावड़ी कहाँ पर स्थित है, आभानेरी कहां है, दूध बावड़ी कहां स्थित है, हिंदी बावड़ी कहां स्थित है, Chand Baori batman, Chand Baori to jaipur, stepwell, Chand Baori district, Chand Baori dausa

इसके बारेमे भी पढ़िए – शेरगढ़ किला धौलपुर घूमने की जानकारी

Leave a Comment

Your email address will not be published.