Bekal Fort Kerala History In Hindi

Bekal Fort Kerala History In Hindi Kerala | बेकल क़िले का इतिहास

नमस्कार दोस्तों Bekal Fort Kerala में कासरगोड जिले के नजदीकी बेकल नाम के गांव में स्थित केरल का सबसे बड़ा, मुख्य और प्राचीन स्थानों मे से एक 160,000 मीटर (40 एकड़) में फैला है। बेकल किले का निर्मणा बेदनूर के राजा शिवप्पा नायक ने 1650 ईस्वी में करवाया था। फोर्ट में विशालकाय होल और समुद्र का शानदार दृश्य के कारन बहुत प्रसिद्ध है। Bekal Kila (बेक्कल किला) चिरक्कल राजाओं के साम्राज्य में अस्तित्व में आया था। 

Bekal kerala किला एक तटीय किले से भी पहचाना जाता है यह किला पल्लीक्करे गांव के अरब सागर के Bekal fort beach के तट पर जमीन पर मौजूद कासगोड़ा के दक्षिण-पूर्व में करीबन 16 कि.मी की दुरी पर मौजूद है। बेकल किला आकर्षक और सुरक्षित किलो में स्थान मिला है। इस किले का निर्माणकर्ता राजा शिवप्पा ने बनवाया था। अगर आप भी इस Kerala bekal fort history (बेकल किला केरल का इतिहास) के बारे में जानना चाहते है तो हमारे इस लेख को पूरा पढियेगा। 

Bekal Fort Kerala History In Hindi Kerala –

पर्यटक स्थान का प्रकार  किला (फोर्ट)
स्थान (Bekal fort in which district) कासरगोड जिला, केरल, भारत
वास्तुकला का प्रकार  प्राचीन हिन्दू कला
निर्माता  शिवप्पा नायक
निर्माण समय  1650 ईस्वी

बेकल kerala fort का एक लम्बा इतिहास कई सालो से सतत चलता आया है। बेकल किला कर्नाटक क्षेत्र के नजदीकी और बेकल क्षेत्र के नजदीकी होने के कारण विजय नगर के शासन काल के समय से इस किले का महत्व ज्यादा है। इतिहासकारो के मतानुसार यह किला चिरक्कल राजाओंके शासन काल के समय में अस्तित्व में आया था। बेकल किले का निर्माणकर्ता शिवप्पा नाम के राजाने बनवाया था।

कई इतिहासकारो के मतानुसार कहा जाता है की यह किला चंद्रगिरि चिराक्कल राजाओंके थे।परन्तु शिवप्पा नायक ने इस पर कब्ज़ा करके इस किले का ई.स 1650 से 1660 के बिच इस किले का पुनः निर्माण करवाया था। ई.स 1776 में बेकल किला हैदर अली के कब्जे में आ गया था। जब टीपू सुल्तान ने मालाबार पर कब्ज़ा करने लिए हमला किया था तब यह किला टीपू सुल्तान की सेना के पड़ाव के स्थान पर महत्वपूर्ण भाग निभाया था।

इसके बारेमे भी पढ़िए – Guruvayur Temple Kerala History In Hindi

बेकल किला का इतिहास –

ई.स 1799 के समय में टीपू सुल्तान अंग्रेजो के सामने विद्रोह किया था और अंग्रेजो के सामने युद्ध करते वीरगति को प्राप्त हो गए इसके बाद यह किला अंग्रेजो के कब्जे में चला गया। बेकल किला अंग्रेजो के कब्जे में जाने के बाद धीरे धीरे इसका राजनीतिक और आर्थिक महत्व समाप्त होता गया। इसके बाद जब भारत स्वतंत्र होने के बाद जब राज्यों का पुनः गठन किया तब केरल के कासरगोड जिले का बेकल गांव का एक हिस्सा बन गया। 

वर्तमान समय में बेकल किले का उत्खनन करने से इक्केरी के महाराज और टीपू सुल्तान के लेटराइट पथ्थर से बनाये गए कई अनेक प्रकार के धर्मनिरपेक्ष और कई धार्मिक ढांचे मिले है।इस उत्खनन में कई अन्य सारी महत्वपूर्ण स्मारक , महत्वपूर्ण खोज में टकसाल और मध्ययुगीन महल और महल परिसर भी मौजूद है।

इसके अलावा दरबार हॉल और मंदिर परिसर के विशेष अवशेस भी उत्खनन  दौरान गए है। उत्खनन दौरान कई सारे किले में से सिक्के मिले हुवे है इन सिक्को में हैदर अली , टीपू सुल्तान , और मैसूर के वाडियार से सबंधित मालूम होते है।  इसके अलावा टीपू सुल्तान के तांबे के सिक्के भी मिले है।

बेकल किला
बेकल किला

Bekal Fort Kerala वास्तुकल –

बेकल cila kerala का क्षेत्र 40 एकड़ में फैला हुवा है। बेकल किले की दीवारे करीबन 12 मीटर ऊँची है। बेकल किला दक्षिण की और एक खाड़ी में bekal fort beach डूब जाता है। बेकल किले का निर्माण इस तरह किया गया है की इस किले का पूरा विस्तार का परिदृश्य नजर आता है। इसके अलावा लेटराइटशैल संस्तर का भी किले को सख्त और मजबूत बनाने के लिए बहोत अच्छी तरह से इस्तेमाल किया गया है।  

बेकल किला एक बड़ा किला है जिसकी bekal fort beach की तरफ प्राचीन और ऊपर के परकोटे बहोत मजबूत है। इस किले के बिच बिच के बुर्जो में तोपों को रखने वाले स्थान भी है। बेकलकिले का का पूर्व तरफ किले का मुख्य द्वार है। यह मुख्य द्वार को बुर्जो को सुरक्षित किया गया है। किले के धरती के हिस्से की तरफ खाई है। इस किले में महत्व विशेषताओमे एक सीढ़ीयोवाला टैंक, दक्षिण की दिशा में खुलती हुई सुरंग है।

इसके अलावा गोला बारूद रखने के लिए बारूदखाने और निगरानी मचान जाने के लिए एक बड़ा चौड़ा मार्ग भी मौजूद है। किले का मचान नजदीकी क्षेत्र को आकर्षक और सुन्दर दिखाई देता है। यह स्थान से नजदीकी सारे जगहें दिखाई देती है। इसके अलावा किले की सुरक्षा को बनाय रखने में सामाजिक महत्व भी है। इस किले की बची हुवी जगहों में इस्तेमाल तोपों को रखने के लिए इसका इस्तेमाल किया जाता था।

Bekal Fort
Bekal Fort

Bekal Fort Timings | खुलने और बंध होने का समय

बेकल का किला पर्यटकों को देखने लिए सुबह सूर्यादय से शाम के सूर्यास्त तक सूर्यास्त तक खुला रहता है। 

बेकल किले का प्रवेश शुल्क –

केरल का बेकल किला  गुमने ने फिरने के लिए और प्रवेश के लिए पर्यटकों 100 रु प्रतिव्यक्ति से शुल्क लिया जाता है। लेकिन भारतीय नागरिको के लिए कम शुल्क अदा करना पड़ता है। 

Places to visit near bekal fort –

बेकल किले के नजदीकी पर्यटन स्थल-

  • वैलीपरम्ब बॅकवाटर 
  • बेकल फोर्ट बीच
  • होसदुर्ग बिच

इसके बारेमे भी पढ़िए – Padmanabhaswamy Temple History In Hindi Kerala

Bekal Fort Kerala History
Bekal Fort Kerala History

 पद्मनाभ :

श्री पद्मनाभस्वामी मंदिर केरल की राजधानी में तिरुवनंतपुरम में मौजूद एक प्रमुख धार्मिक मंदिर है। यह मंदिर पर सोने की परत चढ़ाई गई है। आपको बता दे की पद्मनाभ मंदिर 108 दिव्य स्थानों में से एक माना जाता है। पद्मनाभस्वामी मंदिर वैष्णववाद धर्म के पूजा करने का मुख्य स्थान है। पद्मनाभ मंदिर में भगवान विष्णु के अवतार पद्मनाभ स्वामी की पूजा की जाती है। पद्मनाभस्वामी मंदिर भारत के उन मंदिरो में से एक है जहा पर फ़क्त हिन्दू धर्म लोगो को ही प्रवेश कर सकते है।

पद्मनाभ मंदिर का रहस्य और मंदिर की भव्यता सब लोगो को अपनी और आकर्षित करता है। अगर आप शांति का अनुभव करना चाहते है तो आपको इस पद्मनाभ मंदिर का प्रवास करना चाहिए।  पद्मनाभ मंदिर उसके सख्त नियमो के लिए पहचाना जाता है।पद्मनाभ मंदिर में आनेवाले पर्यटक और भक्तो के लिए एक विशिस्ट प्रकार का ड्रेस पहनना पड़ता है। पद्मनाभ मंदिर के ऐसे नियमो के होते हुवे भी बड़ी भारी संख्या में भक्तो की संख्या दर्शन करने के लिए आते है। 

Hotels Near Bekal Fort – 

  • Bekal Fort Taj Bekal Resort and Spa, Kerala  
  • The Lalit Resort & Spa Bekal
  • Bekal fort resorts
  • ShriGo Bekal Fort Resort & Spa
  • Hotel Bekal Palace
  • Oaks Residency
  • Malabar Ocean Front Resort and Spa
  • Palette – Raj Residency
  • Iman Beach Resort
  • Avisa Beach House
  • The Story Tellers Grove  

इसके बारेमे भी पढ़िए – Bibi Ka Maqbara History In Hindi Maharashtra

बेकल किले तक कैसे पहुंचे –

"<yoastmark

बेकल किला हवाई मार्ग से कैसे पहुंचे :

How to reach Bekal Fort ? तो आपको बतादे की बेकल को अपना खुद का हवाई अड्डा नहीं है। इसलिए आपको हवाई मार्ग से जाना चाहते है तो आपको मैंगलोर हवाई अड्डे से उड़ान भर सकते है। Mangalore to bekal fort distance काकरागोड़ से करीबन 50 कि.मी की दुरी पर खुद का हवाई अड्डा मौजूद है। इसके निकटतम आंतरराट्रीय हवाई अड्डा कालीकट आंतरराट्रीय हवाई एयरपोर्ट कोझिकोड स्थित है यह कासारगोड से करीबन 200 कि.मी की दुरी पर स्थित है। 

बेकल किला ट्रेन मार्ग से कैसे पहुंचे :

Bekal fort railway station अपना देश के मुख्य शहरो से जुड़ा हुवा है। बेकल के नजदीकी कासरगोड रेल्वे स्टेशन और कान्हांगड रेल्वे स्टेशन मुख्य है। यह रेल्वे स्टेशन करीबन 12 कि.मी दुरी पर स्थित है। इसके अलावा बेकल के नजदीकी कोट्टीकुलम और पल्लीकेरे में मौजूद  रेल्वे स्टेशन स्थित है पर्यटक इस का भी इस्तेमाल कर सकते है। 

बेकल किला सड़क मार्ग से कैसे पहुंचे :

बेकल के नजदीकी अन्य मुख्य शहरों कोई भी बस मार्ग मौजूद नहीं है। बेकल के निकटतम बस स्टेशन कार्सगॉड  मौजूद है वह करीबन 12 कि.मि की दुरी पर स्थित है।

Bekal Fort Kerala Map –


इसके बारेमे भी पढ़िए – Nagaur Fort History In Hindi Rajasthan

Bekal Fort Video – 

बेकल किले के बारे में Interesting facts –

  • 40 एकड़ जमीन के घेरे में फैला यह केरल का सबसे बड़ा किला है।
  • 2001 में उइरे नाम की एक तेलगु फिल्म के तमिल गीत को बेकल दुर्ग में ही फिल्माया गया था।
  • kerala bekal fort के अंदर एक वॉच टावर है, जिससे सामुंद्र का नजारा बेहद खूबसूरत दिखता है। 
  • वर्ष 1995 ई॰ में बेकल पर्यटन विकास निगम ने किले के कार्यो को बढ़ावा दिया था। 
  • 1992 ई॰ में भारत की पुरातात्विक सर्वेक्षण ने किले को संरक्षित रखने के लिए विशेष पर्यटन क्षेत्र बनाया था। 
  • Bekal fort in hindi में आपको बतादे की किले की छत पर एक विशाल तोप लगी हुई है। 

FAQ –

1. बेकल किला कहा स्थित है ?

बेकल किला केरल के पल्लीक्करे गांव के अरब सागर के Bekal fort beach के तट पर

जमीन पर मौजूद कासगोड़ा के दक्षिण-पूर्व में करीबन 16 कि.मी की दुरी पर मौजूद है। 

2. बेकल किले का निर्माण किसने करवाया था ?

बेकल किले का निर्माणकर्ता शिवप्पा नाम के राजाने बनवाया था।

कई इतिहासकारो के मतानुसार कहा जाता है की यह किला चंद्रगिरि चिराक्कल राजाओंके थे।

परन्तु शिवप्पा नायक ने इस पर कब्ज़ा करके इस किले का पुनः निर्माण करवाया था। 

3. बेकल किले का निर्माण कब करवाया था ?

कई इतिहासकारो के मतानुसार कहा जाता है की यह किला चंद्रगिरि चिराक्कल राजाओंके थे।

परन्तु शिवप्पा नायक ने इस पर कब्ज़ा करके इस किले का ई.स 1650 से

1660 के बिच इस किले का पुनः निर्माण करवाया था। 

4 . बेकल किले से हवाई अड्डा कितनी दुरी पर स्थित है ?

बेकल किले से हवाई मथक काकरागोड़ से करीबन 50 कि.मी की दुरी पर खुद का हवाई अड्डा मौजूद है।

5 . बेकल किले के नजदीकी कौनसा आंतरराट्रीय हवाई अड्डा स्थित है ?

इसके निकटतम आंतरराट्रीय हवाई अड्डा कालीकट आंतरराट्रीय हवाई एयरपोर्ट कोझिकोड स्थित है।

यह कासारगोड से करीबन 200 कि.मी की दुरी पर स्थित है। 

6. बेकल किले के नजदीकी कौनसा रेल्वे जंक्शन है ?

बेकल किले के नजदीकी कासरगोड रेल्वे स्टेशन और कान्हांगड रेल्वे स्टेशन मुख्य है।

यह रेल्वे स्टेशन करीबन 12 कि.मी दुरी पर स्थित है। 

इसके बारेमे भी पढ़िए – Asirgarh Fort History In Hindi Pradesh

Conclusion –

दोस्तों उम्मीद करता हु आपको मेरा ये लेख Bekal fort kerala के बारे में पूरी तरह से समज आ गया होगा। इस लेख के द्वारा हमने History of bekal fort के बारे में और Information about bekal fort की जानकारी दी है। अगर आपको इस तरह के अन्य ऐतिहासिक स्थल और प्राचीन स्मारकों की जानकरी पाना चाहते है तो आप हमें कमेंट करे। आपको हमारा यह आर्टिकल केसा लगा बताइयेगा और अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करे। धन्यवाद।

13 thoughts on “Bekal Fort Kerala History In Hindi Kerala | बेकल क़िले का इतिहास”

  1. 3790 kez izlendi. Dil Türkçe Altyazılı. Kategori Konulu Erotik Filmler,
    Sansürsüz Erotik Filmler, Yabancı Sex Filmleri.

    Ailesinin yanında gitmek için bindiği uçak hiç kimselerin ulaşamayacağı
    bir adaya düşer. Uçakta az kişi olmasına rağmen sağ kalan sadece o olduğunu düşünür.
    Adada keşif yaptığında ise bir.

  2. stromectol prospect At least two possibilities may link ReaChR and with IL 1ОІ in mediating microgliogenic pain 1 ReaChR dependent Ca 2 elevation could facilitate the release of IL 1ОІ which potentiates synaptic transmission and initiate pain, and 2 ReaChR activation could increase IL 1ОІ expression, which maintains chronic pain hypersensitivity

  3. Bentyl dicyclomine dosage in dogs. Dicyclomine is an anticholinergic medication that is used
    along with rest and physical therapy and as a type of therapy in an effort to lower the eye pressure
    in people with glaucoma. While beyond the buy cialis generic had
    abortion 4 times and now the doctor occur in a myriad of service to others from.

  4. NEW YORK, Sep 13 (IPS) – Preparations for COP27 in November are proceeding apace and we are now well past the halfway mark between the preparatory meetings in June in Bonn and the start of the summit in Sharm El-Sheikh, Egypt. The agenda for Sharm El-Sheikh is complex and challenging. Furthermore, the meeting is taking place during a time of international turmoil. So, what are the factors influencing whether Sharm El-Sheikh can be a success? And what, exactly, does COP27 need to deliver? According to the Republic Act No. 9487, PAGCOR is also responsible for issuing licenses to online bingo sites in the Philippines, although these cannot be played by Filipino citizens under the Executive Order No.13, and must, therefore, target offshore players. InTouch Games started out in 2001 as a manufacturer of land-based slot machines and jukeboxes. In 2006, the company developing a mobile phone casino system and took their first steps into the online gaming market. mFortune was the first online casino brand launched by the developer. InTouch Games is now the owner of five other mobile casino brands – PocketWin, Mr Spin, Dr Slot, Cashmo, and Casino 2020. https://www.pcusa.mywebsmith.com/community/profile/casimirathow939/ prc mechanical engineering board exam 2022 make money philippines In all other regions of the Philippines, online gambling is operated by the Philippine Amusement and Gambling Corporation (PAGCOR). However, citizens are not allowed to bet from their homes. Instead, they must go to PAGCOR-operated betting outlets across the country. Yes. 1xBet currently has a Curacao license and have proved themselves to be a trustworthy and legal online betting site in jurisdictions around the world. GCash is becoming the number one Fillipino mobile cashless payment option. In the Philippines, it has over 20 millions users whom use it for everything, from shopping, saving, ang bao, bank transfers and of course mobile gaming! And when it comes to highly reliable payment processors, Visa, Mastercard, and bank transfers are often used by Philippines sportsbooks and casinos. Thanks to the use of authenticated transactions and the Know Your Customer or KYC procedures, these payment procedures allow you to complete payments privately and securely. However, these payment solutions often have one ‘minor complaint’ among sports betting fans: waiting time. In many sportsbooks, transactions using credit cards can take 1 to 3 days. And if you use bank transfers, the waiting times can take up to a week! For convenience, you need to consider alternative payment options that can offer faster and convenient transactions.

  5. 我们还为日本的用户群提供了细分。这是一个相对较小的样本,只有600万用户,尽管这个富裕,高度数字化的亚洲人也许可以向我们表明TikTok在特定市场条件下的成功。 简而言之,通过这个脚本,你可以实现百度文库、网站视频、全网音乐等资源的下载,也可以用于观看全网VIP视频,同时还支持主流短视频平台去水印下载。而且,还可以用于一些热门论坛的功能增强。 如果希望单独安装浏览器插件的话,推荐 眼不见心不烦,其支持 Chrome 和 Firefox 脚本 热血封神(高爆版) 广播电视节目制作经营许可证(京)字第00828号 甲测资字11110398 京公网安备11000002000016号 ★ 免费游戏畅玩-立刻下载可得1200神币(限新注册),三缺一也不怕 https://dadstreamer.com/community/profile/arronprenzel226/ 5、行牌顺序,依座次的逆时针方向进行抓牌、出牌、吃牌、碰牌、杠牌、补牌、和牌。抓牌,按逆时针方向进行。顺序是庄家、旁家。抓牌时,上家打出牌后,自己才能抓牌,上家未打出牌,自己不能动手摸牌。   三人麻将的玩法 使用所有牌 平台:安卓&苹果 行牌:行牌即是打牌进行过程。由庄家打出第一张牌开始,此过程包括抓牌、出牌、吃牌、碰牌、开杠(明杠、暗杠)、补直至和牌或荒牌。 点击进入Sia7门户,搜索随便玩南昌麻将,进入之后你会看到有两个按钮,分别是【高速下载】和【普通下载】,高速下载可以更加节省下载时间和流量,能够很好的解决下载耗时长的问题。如图所示:

Leave a Comment

Your email address will not be published.